Top

Barabanki News in Hindi: अराजक तत्वों द्वारा मानसिक उत्पीड़न करने का चकबंदी लेखपाल ने लगाया आरोप

Barabanki News in Hindi: अराजक तत्वों द्वारा मानसिक उत्पीड़न करने का चकबंदी लेखपाल ने लगाया आरोप
X

बाराबंकी विकास खंड निंदुरा के अंतर्गत डिंगरी गावँ के अराजक तत्वों द्वारा चकबंदी लेखपाल का मानसिक उत्पीड़न।

बाराबंकी। विकास खंड निंदुरा के डिंगरी गांव में तैनात चकबंदी लेखपाल द्वारा कुछ कुछ लोगों (ओम प्रकाश, पूर्व प्रधान गुट) के खिलाफ राजनीतिक अकड़ दिखाकर मानसिक उत्पीड़न करने का आरोप लगाया गया है। लेखपाल ने आरोप लगाया गया है कि धन उगाही का दबाव बनाकर धमकी दी जा रही है कि हमारे गांव मे 15 सालो से प्रधानी का राज रहा है, अगर उनके मन मुताबिक काम नहीं करेंगे तो अनेक प्रकार के आरोप लगाकर बर्खास्त करवा देंगे।

दरअसल बात ग्रामसभा डिंगरी की है, जहां चकबंदी प्रक्रिया अपनी प्रारंभिक स्तर पर है जिसके दौरान तालाब बंजर की भूमि पर व्याप्त अतिक्रमण को लेखपाल द्वारा हटाने को कहा जाना इन लोगों को नागवार गुजर रहा है।

ग्राम प्रधान व ग्रामीणों द्वारा चकबंदी लेखपाल के जांच में दिये गए बयान
ग्राम प्रधान व ग्रामीणों द्वारा चकबंदी लेखपाल के जांच में दिये गए बयान

गौरतलब है कि इन लोगों द्वारा तालाब के पट्टे को जबरन भूमिधरी करवाने का दबाव लेखपाल पर बनाया जाने लगा, जिसे मना करने पर लेखपाल को अनुसूचित जनजाति का होने की बात कहकर देख लेने की धमकी के साथ तरह-तरह के मनगढंत आरोप लगाए जाने लगे, जिसकी विभागीय जांच करने के पश्चात सभी आरोप झूठे व निराधार साबित हुए लेकिन इसके बावजूद इन लोगों द्वारा लगातार मनगढंत कहानी गढ़कर लेखपाल की छवि बिगाड़ने का काम बरकरार है।

चकबंदी लेखपाल की जांच आख्या रिपोर्ट
चकबंदी लेखपाल की जांच आख्या रिपोर्ट

जबकि ग्राम प्रधान रामसेवक व ग्रामीणों द्वारा लेखपाल को सरल - सज्जन व्यक्तित्व वाला बताया गया। इस तरह के आरोपों व धमकियों से लेखपाल आहत व मानसिक प्रताड़ित महसूस कर रहा है।

Next Story
Share it