Top

Basti Health Update: सामुदायिक संक्रमण से पहले ही सीएचसी क्षेत्र में रैण्डम सैंपलिंग कराई जाए- डीएम

प्रत्येक सीएचसी में तीन प्रकार की सैंपलिगं कराएं- DM

बस्ती| जनपद में कोरोना संक्रमण की बढती संख्या को देखते हुए जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने निर्देश दिया है कि प्रत्येक सीएचसी क्षेत्र में रैण्डम सैम्पलिंग कराये, जिससे सामुदायिक संक्रमण की समय से पूर्व पहचान की जा सकें। उन्होने कहा कि रैण्डम सैम्पल इस प्रकार कराया जाय कि सभी सम्भावित वर्नरेबल ग्रुप को इससें कवर किया जा सकें।

उन्होने निर्देश दिया कि तीन प्रकार की सैम्पलिंग प्रत्येक सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र कराना सुनिश्चित करें। उन्होने कहा कि रैण्डम सैम्पलिंग में आने वाले चिन्हित स्लम एरिया में से कम से कम 50 सैम्पल किये जाय, जिसमें गम्भीर बीमारी से ग्रस्त कम से कम 05 व्यक्ति, 10 वर्ष या कम उम्र के 05 बच्चें, 60 वर्ष अथवा उसके अधिक उम्र के 10 व्यक्ति, उस क्षेत्र में ऐसे 10 व्यक्ति जो बाहर से आये हो एवं उस क्षेत्र के 10 ऐसे व्यक्ति जो कभी बाहर न गये हों किन्तु उनको कोरोना संबंधी कोई लक्षण प्रतीत हो रहे हो, की सैम्पलिंग कराये।

उन्होने कहा कि सीएचसी क्षेत्र के प्रत्येक ऐसे गाॅव जहाॅ कोरोना पाॅजिटिव मरीज पाये गये हो, वहाॅ से कम से कम 10 ऐसे व्यक्ति जो किसी कोरोना पाॅजिटिव के पड़ोसी हो तथा सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के ऐसे क्षेत्र जहाॅ कोरोना पाॅजिटिव मरीज पाये गये हो जिनका कोई ट्रवेल हिस्ट्री अथवा कान्टेक्ट संज्ञान में न हो वहाॅ से 25 सैम्पल किए जाय। इसका रोस्टर संबंधित एमओआईसी द्वारा जारी किया जायेंगा।

उन्होने कहा कि सैम्पलिंग कार्य को स-समय कराये जाने और पर्यवेक्षण हेतु अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ0 सीएल कन्नौजिया को नोडल अधिकारी नामित किया गया है, तथा डीपीएम राकेश पाण्डेय को सह नोडल अधिकारी नामित किया गया है। सह नोडल अधिकारी सैम्पलिंग की रिपोर्ट और डेटा संबंधित गूगल शीट पर नियमित रूप से अपडेट कराते हुए मुख्य विकास अधिकारी को अवगत करायेंगे।

Next Story
Share it