Top

Basti: लॉकडाउन के चलते मुंबई में फंसा पति वीडियो कालिंग से पत्‍नी की अंत्‍येष्टि में हुआ शामिल

बस्ती| सल्टौआ ब्लॉक के कनेथू बुजुर्ग गांव में शुक्रवार की रात हृदय विदारक घटना हुई। लॉकडाउन में बिटिया का गवना टलने से दु:खी कुसुम मिश्रा (50) की तबीयत अचानक बिगड़ गई। पीएचसी पर डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। लेकिन पति चंद्रेश पत्नी का अंतिम दर्शन नहीं कर सकें। क्योंकि लॉकडाउन के चलते वह बड़े बेटे शनि के साथ मुंबई में फंसे हुए हैं।

मोबाइल पर वीडियो कॉलिंग के जरिए वह अंतिम संस्कार में शामिल हुए। सल्टौआ ब्लॉक के कनेथू बुजुर्ग गांव निवासी चन्द्रेश मिश्र काफी दिनों से पूना में रहकर सिलाई का काम करते हैं। बड़ा बेटा शनि साथ में रहकर कारोबार करता है। दो बेटे सुमित (16) और संतोष (13) घर पर रहकर पढ़ाई कर रहे हैं। चन्द्रेश की दोनों बेटियों दीपा और रुपा की शादी हो चुकी है। छोटी बेटी रुपा का गवना चार मई को होना तय था। दोनो पुत्रों सुमित व संतोष के मुताबिक लॉकडाउन के चलते बहन के गौना में पिता के शामिल न हो पाने से उसके गौने की तिथि टाल देनी पड़ी। जिसे लेकर उनकी मां कुसुम मिश्रा कुछ दिनों से असहज स्थित में रह रही थीं।

बताया जा रहा है कि शुक्रवार रात अचानक मां की तबीयत अधिक बिगड़ गई। उन्हें इलाज के लिए एम्बुलेंस से पीएचसी सल्टौआ लेकर गए जहां चिकित्सक ने मृत घोषित कर दिया। इसकी सूचना मोबाइल पर मुंबई में पिता चंद्रेश और बेटे शनि को दी गई।

Next Story
Share it