30.7 C
Uttar Pradesh
Monday, August 15, 2022

बस्ती न्यूज़: आमी नदी में बहे युवक का दूसरे दिन भी नही चला पता

भारत

Parashuram Verma
Parashuram Verma
Journalist Basti Khabar

पीएसी, एसडीआरएफ़ और गोताखोर की टीमें खोजने में जुटी। लेकिन अब तक नही मिली कामयाबी।

रुधौली/बस्ती। नदी में नहाने का जुनून एक युवक को भारी पड़ गया। और वह देखते-देखते धारा के तेज बहाव में बह गया। जबकि उसके दूसरे साथी को डेढ़ किलोमीटर दूर कुछ चरवाहों ने नदी में कूद कर बचा लिया। लेकिन दूसरे दिन भी उसके एक अन्य साथी का कुछ पता नही चल पाया है।

पीएसी और एसडीआरएफ का बचाव दल लगातार ढूढने का प्रयास कर रही है। वहीं आधा दर्जन से अधिक गोताखोरों को भी नदी में उतारा गया किन्तु उन्हें भी कामयाबी नही मिल पाई है। एसडीआरएफ की टीम स्टीमर के सहारे नदी के पानी को मथने में जुटी हुई है। परन्तु सफलता नही मिल पायी है।

नदी में डूबे युवक की तलाश में पुलिस, एसडीआरएफ़ और गोताखोर की टीमें जुटीं / फोटो - परशुराम वर्मा
नदी में डूबे युवक की तलाश में पुलिस, एसडीआरएफ़ और गोताखोर की टीमें जुटीं / फोटो – परशुराम वर्मा

प्रभारी निरीक्षक संजय कुमार मिश्र ने बताया कि, “युवक को ढूढने का पूरा प्रयास किया जा रहा है। दोनों टीमें और गोताखोरों द्वारा हर सम्भव कोशिश की जा रही है। काफी देर तक बचाव दल के साथ स्टीमर पर बैठ कर मैने भी नदी के हर संभावित क्षेत्र में जाकर पता कराया किन्तु सफलता नही मिली। लगातार प्रयास जारी है”।

गौरतलब है कि शनिवार को दोपहर बाद नगर पंचायत रुधौली के दीनदयाल उपाध्याय नगर निवासी 25 वर्षीय रंजीत पुत्र रामप्रकाश पटवा अपने एक साथी संतोष कुमार पुत्र लल्लन सोनी के साथ बाइक से आमी नदी के कड़सरा घाट पर बने पुल पर पहुँच गए। लगातार हो रही बरसात से आमी नही उफनाई हुई है। वहां पर उनको नदी में नहाने का शौक चढ़ गया। फिर क्या था दोनों ने अपने कपड़े उतारे, सारा सामान पुल पर रख नदी के बहाव के विपरीत दिशा में पुल से नदी में कूद गए।

धारा इतनी तेज थी कि उन्हें संभलने का मौका नही मिला और दोनों बहनें लगे। बताया जाता है कि लगभग दो किलोमीटर दूर बस्ती-बांसी मार्ग पर बने पुल के पास वहां पर कुछ चरवाहों ने संतोष को बहते देखा और शोर मंचाया। कुछ तैराक युवकों ने नदी में छलांग लगा कर किसी तरह उसे बाहर निकाला। किन्तु उसके दूसरे साथी रंजीत का कुछ पता नही चल पाया।

किसी ने इसकी सूचना थाने पर प्रभारी निरीक्षक को दी। पुलिस ने गोताखोरों के सहारे खोजने का प्रयास किया लेकिन विफल रहे। दूसरे दिन पीएसी और एसडीआरएफ की टीम बुलाई गई। आधा दर्जन से अधिक कुशल गोताखोरों को बुलाया गया है। लगातार ढूढने प्रयास जारी है किन्तु सफलता नही मिल सकी है।

रंजीत पटवा की नवविवाहिता पत्नी पर टूटा विपत्ति का पहाड़

नदी में नहाते समय लापता हुए युवक रंजीत पटवा की कुछ समय पूर्व शादी हुई थी। उसकी पत्नी रुचि गर्भवती है। जो बदहवास है। माँ शकुन्तला सहित पूरा परिवार सदमे में है। सबका रो-रो कर बुरा हाल है। पूरे क्षेत्र में शोक का माहौल है। हर कोई जानने को उत्सुक है। सबकी जुबान पर एक ही सवाल है कि कुछ पता चला। लेकिन होनी को जो मंजूर होता है वही होता है। नदी के घाट पर हजारों की संख्या में लोग जमे हुए है। पुलिस को कई बार उनको हटाने के लिए कड़ा रुख अपनाना पड़ा। लेकिन लोग थे कि हटने का नाम नही ले रहे थे।

Advertisement
- Advertisement -

सबसे अधिक पढ़ी गई

- Advertisement -

ताजा खबरें