Basti: आंधी-पानी से बचने के लिए दो किसान झोपड़ी में छिपे, दीवार ढहने से हुयी मौत

 Basti: आंधी-पानी से बचने के लिए दो किसान झोपड़ी में छिपे, दीवार ढहने से हुयी मौत

आंधी-पानी से बचने के लिए दो किसान झोपड़ी में छिपे, दीवार ढहने से हुयी मौत – Basti Khabar

बस्‍ती के गौर थाना क्षेत्र के एक गांव में खेत में काम कर रहे दो किसान तेज आंधी-पानी से बचने के लिए पास में ही मौजूद झोपड़ी में जाकर छिप गए। भारी बारिश के चलते मिट्टी की दीवाल ढहने से दोनों नीचे दब गए। एंबुलेंस से सीएचसी गौर से रेफर होकर जिला अस्पताल पहुंचे। इलाज के दौरान दोनों की वहां मौत हो गई।

एसओ गौर अनिल कुमार दूबे ने बताया कि कोतवाली पुलिस ने दोनों शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। शुक्रवार की सुबह एकाएक मौसम में बदलाव आया और देखते ही देखते भीषण आंधी और बरसात शुरू हो गई। इसी दौरान गौर थाना क्षेत्र के विशनपुर गांव निवासी किसान बुद्धि राम (65) पुत्र मथुरा व राम सूरत (45) पुत्र जगन्नाथ अपने खेत में काम कर रहे थे।

आंधी के बाद तेज बरसात से बचाव के लिए पास में ही एक झोपड़ी में चले गए। कुछ देर बाद मिट्टी की दीवाल पर बनी झोपड़ी गिर गई। वे दोनों लोग दीवाल की चपेट में आ गए। बारिश बंद होने के बाद भी काफी देर तक दोनों घर नहीं पहुंचे तो परिजन अन्य लोगों के साथ तलाश करते हुए मौके पर पहुंच गए। परिजनों ने 108 नम्बर एम्बुलेंस सेवा से सीएचसी गौर पहुंचाया। जहां नाजुक हालत देखते हुए जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। इलाज के दौरान दोनों ने दमतोड़ दिया।

READ  मत्स्य संपदा योजना के तहत निजी भूमि पर तालाब निर्माण कराया जाएगा- DM Basti

Related post