Top

बजट 2020: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण का ऐलान, बैंक जमा पर गारंटी 5 लाख रुपए होगी

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण. मोदी सरकार 2.0 का दूसरा बजट पेश कर रही हैं. वित्त मंत्री के हाथ में एक बार फिर लाल कपड़े में बंधा बहीखाता दिखा. बहीखाते का चलन वही लेकर आई थीं. 5 जुलाई 2019. पहली बार वित्त मंत्री बनी निर्मला सीतारमण ने देश का बजट पेश किया था. इसे नाम दिया गया था बही-खाता. इससे पहले बजट को एक चमड़े के बैग में लेकर जाया जाता था. ये लगातार दूसरा मौका है जब वित्त मंत्री बहीखाता पेश कर रही हैं.

देश की निगाहें वित्त मंत्री पर हैं. क्योंकि अर्थव्यवस्था की हालक ठीक नहीं है. सरकार ने 2018-19 के लिए डीजीपी ग्रोथ रेट का अनुमान 6.8 से घटाकर 6.1 कर दिया है. जानते हैं वित्त मंत्री के बहीखाते में क्या है. अपने बजट भाषण में वित्त मंत्री क्या कह रही हैं.

वित्त मंत्री ने कहा कि हमारी अर्थव्यवस्था मजबूत है. युवाओं को रोजगार देने की कोशिश करेंगे. जीएसटी से 60 लाख नए करदाता जुड़े. जीएसटी से औसत परिवार के खर्च में 4 प्रतिशत की कमी आई. वित्त मंत्री ने कहा कि जीएसटी को बनाने वाले आज हमारे साथ नहीं हैं, मैं अरुण जेटली जी को श्रद्धांजलि देती हूं. जीएसटी का कलेक्शन लगातार बढ़ रहा है और हाल ही में इसने 1 लाख करोड़ रुपये का आंकड़ा पार किया है. वित्त मंत्री ने कहा कि एक पूर्व प्रधानमंत्री ने कहा था कि सरकार की ओर से भेजा गया पैसा गरीबों तक नहीं पहुंचता है, लेकिन हमारे प्रधानमंत्री ने इस दुविधा को दूर किया. अब लोगों के खाते में सीधा पैसा पहुंच रहा है. वित्त मंत्री ने कहा कि इस बजट में तीन बिंदुओं पर फोकस किया जा रहा है. उम्मीदों का भारत, इकोनॉमिक डेवलेपमेंट और केयरिंग समाज. वित्त मंत्री ने एक कश्मीरी कविता भी सुनाई जिसका हिन्दी अर्थ समझाया. ये कविता पंडित दीनानाथ कौल की है.

खिलते हुए शालीमार बाग जैसे हमारा वतन डल लेक में खिलते हुए कमल जैसा नवजवानों के गरम खून जैसा मेरा वतन, तेरा वतन, हमारा वतन, दुनिया का सबसे प्यारा वतन.

वित्त मंत्री ने कहा कि हमारी सरकार 2022 तक किसानों की आय दोगुना करने के लिए प्रतिबद्ध है. किसानों के लिए बड़ा ऐलान करते हुए निर्मला सीतारमण ने कहा कि हमारी सरकार किसानों के लिए 16 सूत्रीय फॉर्मूले का ऐलान करती है, जिससे किसानों को फायदा पहुंचाएगा. 1.मॉर्डन एग्रीकल्चर लैंड एक्ट को राज्य सरकारों द्वारा लागू करवाना. 2.100 जिलों में पानी की व्यवस्था के लिए बड़ी योजना चलाई जाएगी. पीएम कुसूम स्कीम के जरिए किसानों के पंप को सोलर पंप से जोड़ा जाएगा. 20 लाख किसानों को योजना से जोड़ा जाएगा. 15 लाख किसानों के ग्रिड पंप को भी सोलर से जोड़ा जाएगा. ब्लू इकॉनोमी के जरिए मछली पालन को बढ़ावा दिया जाएगा. इसे सागर मित्र योजना नाम दिया गया है. 2024 तक दो लाख टन मछली उत्पादन का लक्ष्य.

हेल्थकेयर- मिशन इंद्रधनुष 12 बीमारियों से लड़ता है. फिट इंडिया मूवमेंट भी चल रहा है. स्वच्छ भारत मिशन भी चल रहा है. पीएम जनआरोग्य योजना के तहत 20 हजार से ज्यादा अस्पताल पैनल में हैं. सरकार इसे बढ़ाएगी. पीपीपी मोड में अस्पताल बनाए जाएंगे.

वित्त मंत्री ने कहा कि मेडिकल डिवाइस पर जो भी टैक्स मिलता है, उसका इस्तेमाल मेडिकल सुविधाओं को बढ़ावा देने के लिए किया जाएगा. टीबी के खिलाफ देश में अभियान शुरू किया जाएगा, ‘टीबी हारेगा, देश जीतेगा. सरकार की ओर से देश को 2025 तक टीबी मुक्त करने की कोशिश है. प्रधानमंत्री जन औषधि योजना के तहत सेंटर्स की संख्या को बढ़ाया जाएगा. स्वास्थ्य योजनाओं के लिए लगभग 70 हजार करोड़ का ऐलान.

वित्त मंत्री ने कहा कि सरकार नई शिक्षा नीति लेकर आएगी. जिला अस्पतालों में मेडिकल कॉलेज बनाने की योजना बनाई जाएगी. लोकल बॉडी में काम करने के लिए युवा इंजीनियर्स को इंटर्नशिप की सुविधा दी जाएगी. वित्त मंत्री ने कहा कि उच्च शिक्षा को बेहतर बनाने के लिए सरकार काम कर रही है, दुनिया के छात्रों को भारत में पढ़ने के लिए सुविधाएं दी जाएंगी. भारत के छात्रों को भी एशिया, अफ्रीका के देशों में भेजा जाएगा. राष्ट्रीय पुलिस विश्वविद्यालय, राष्ट्रीय न्यायिक विज्ञान विश्वविद्यालय बनाने का प्रस्ताव रखा गया है. डॉक्टरों के लिए एक ब्रिज प्रोग्राम शुरू किया जाएगा, ताकि प्रैक्टिस करने वाले डॉक्टरों को प्रोफेशनल बातों के बारे में सिखाया जा सके.

शिक्षा के लिए 99,300 करोड़ रुपये आवंटति किए गए. 3000 करोड़ स्किल डेवलपमेंट के लिए. बजट में स्मार्ट सिटी का जिक्र. पीपीपी मॉडल पर 5 स्मार्ट सिटी विकसित करने का लक्ष्य रखा गया. वित्त मंत्री ने कहा- सरस्वती सिंधु सभ्यता 4000 ईसापूर्व की हैं. उनकी लिपि से पता चलता है कि कैसे भारत मेटलर्जी और कारोबार में आगे था. श्रेणी, सेठी जैसे कारोबारियों का जिक्र है. भारत समुद्री कारोबार में अग्रणी था. हम हजारों साल से कारोबार कि विधा जानते हैं. वित्त मंत्री ने कहा- हमारे पीएम चाहते हैं कि हर जिला निर्यात के नजरिए से एक्सपोर्ट हब बने. ई-मार्केट प्लेस इसके लिए सहायता कर रहा है. लगभग ढाई लाख वेंडर इससे जुड़े हैं. 27 हजार करोड़ रुपये इसके लिए दिए जाएंगे. वित्त मंत्री ने कहा कि 2,500 किलोमीटर एक्सप्रेसवे 9000 किलोमीटर इकॉनमिक कॉरिडोर, 2000 किलोमीटर स्ट्रेटेजिक हाईवे बनेगा. दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे, चेन्नई-बेंगलुरू एक्सप्रेसवे जल्दी बन कर तैयार होगा. 2024 तक 6000 किलोमीटर हाईवे बनेंगे. रेलवे को लेकर क्या ऐलान हुए? वित्त मंत्री ने बजट में रेलवे से जुड़ा ऐलान किया. 550 रेलवे स्टेशनों पर वाई फाई सुविधा दी गई है. 27 हजार किलोमटीर ट्रैक का इलेक्ट्रिफिकेशन होगा. सोलर पावर ग्रिड रेल पटरी के किनारे बनेगा. 150 ट्रेन पीपीपी मोड में चलाने का फैसला. तेजस जैसे ट्रेनों की संख्या बढ़ेगी. 148 किलोमीटर बेंगलूरू ऊपनगरीय ट्रेन सिस्टम बनेगा. तेजस जैसी और भी ट्रेन, जो पर्यटक स्थलों को जोड़ेंगी. #100 से ज्यादा नए एयरपोर्ट बनाने की घोषणा. 2ज014 तक. 1.7 लाख करोड़ रुपये ट्रांसपोर्ट इन्फ्रास्ट्रक्चर पर 2020-21 में खर्च होंगे. #धीरे-धीरे पुराने मीटर हटाने का लक्ष्य. प्रीपेड स्मार्ट मीटर से सप्लायर और रेट चुनने का विकल्प होगा. 22 हजार करोड़ रुपए पावर सेक्टर के लिए प्रस्तावित. #राष्ट्रीय गैस ग्रिड को मौजूदा 16,200 किलोमीटर से बढ़ाकर 27 हजार किलोमीटर तक पहुंचाने का प्रस्ताव. भारतनेट कार्यक्रम को 6 हजार करोड़ रुपये देने का प्रस्ताव. #क्वांटम टेक्नॉलजी पर फोकस. अगले पांच साल में क्वांटम एप्लीकेशन पर 8 हजार करोड़ रुपये खर्च किया जाएगा. भारत तीसरा सबसे बड़ा देश होगा जो बड़े लेवल पर इसका इस्तेमाल करेगा.

#वित्त मंत्री ने कहा कि महिलाओं की शादी की उम्र 1978 में 15 साल से बढ़ाकर 18 कर दी गई. शारदा ऐक्ट लाया गया. मकसद पोषण को बढावा देना था. एक टास्क फोर्स बनेगा जो छह महीनों में इस पर दोबारा विचार करेगा. 35 हजार करोड़ रुपये पोषण से जुड़ी योजनाओं पर खर्च होंगे.

#बजट में अनुसूचित जाति और अन्य पिछड़े वर्गों के लिए 85 हजार करोड़ रुपये का प्रस्ताव. दिव्यांगों और बुजुर्गों के लिए 9500 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया.

#पांच पुरातात्विक जगहों पर म्यूजियम बनेंगें- हस्तिनापुर, शिवसागर, डोलावीरा, आदिचेल्लनूर, राखीगढी. इसके अलावा रांची में ट्राइबल म्यूजियम बनेगा. लोथल में मारीटाइम म्यूजियम बनेगा. लोथल का जिक्र हड़प्पा सभ्यता में एक पोर्ट के रूप में है. पर्यटन के लिए 2500 करोड़ का ऐलान.

#वित्त मंत्री तमिल कवि तिरुवल्लूर की कविता सुनाई. इसमें पांच तत्वों का जिक्र है. वित्त मंत्री ने तमिल कविता का अनुवाद किया. पांचों तत्वों की तुलना पीएम मोदी के फैसलों से की. तिरुवल्लूर ने जिन पांच रत्नों का जिक्र किया है मोदी ने उसे पूरा कर दिखाया है. स्वास्थ्य, खुशहाली, सुरक्षा और किसानों के लिए कई उपाय किए गए हैं.

#बैंक जमा पर गारंटी 5 लाख रुपए होगी. यानी बैंक अगर किसी कारण से डूबता है तो 5 लाख रुपए मिलेंगे.

Next Story
Share it