Top

छत्तीसगढ़: मेला देखकर लौट रही टीचर से शव वाहन में रेप

छत्तीसगढ़: मेला देखकर लौट रही टीचर से शव वाहन में रेप
X

छत्तीसगढ़ का कवर्धा जिला. एक स्कूल टीचर ने आरोप लगया है कि चलती गाड़ी में उसका रेप किया गया. शोर मचाने पर गांववालों ने गाड़ी रुकवाई, लेकिन आरोपी भाग गए. हालांकि घटना के 24 घंटे बाद पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया.

पूरा मामला क्या है?

इस मामले की जानकारी के लिए हमने इंडिया टुडे से जुड़े कवर्धा के तमबोली से बात की. उन्होंने बताया कि घटना सोमवार 17 फरवरी की है. लड़की की उम्र 22 साल है. वो मेला देखने के लिए अपनी सहेलियों के साथ मध्य प्रदेश के मवई गई हुई थी, लेकिन वापस आते समय अकेली हो गई. वो वापस तरेगांव आ रही थी. उसने एक शव वाहन से लिफ्ट ली. इसमें तीन लड़के पहले से मौजूद थे. आअरोप है कि रास्ते में उनमें से एक आरोपी आदित्य उर्फ आलोक ने रेप किया. जब लड़की ने शोर मचाया तो गांव वालों ने गाड़ी रुकवाई. लेकिन तीनों फरार हो गए.

पुलिस अधीक्षक डॉक्टर लाल उमेद सिंह ने बताया कि लड़की मेला देखकर लौट रही थी. शाम के करीब साढ़े सात बज गए थे. उसने शव वाहन से लिफ्ट मांगी. आरोप है कि दलदली के जंगलों इनमें से एक ने लड़की का रेप किया. लड़की की शिकायत के बाद केस दर्ज कर लिया गया है. आरोपियों में एक ड्राइवर है, जिसका नाम मनहरण है. और बाकी के दो आरोपियों के नाम राजाराम और आलोक है. इसमें आलोक मुख्य आरोपी है.

पुलिस अधीक्षक डॉक्टर लाल उमेद सिंह.
पुलिस अधीक्षक डॉक्टर लाल उमेद सिंह ने मीडिया को घटना की जानकारी दी.

पुलिस ने बताया कि लड़की एक सरकारी स्कूल में पढ़ाती है. हाल ही में उसकी नियुक्ती हुई थी. वहीं, शव वाहन का ड्राइवर बिना बताए गाड़ी मेला देखने के लिए ले गया था. गाड़ी अस्पताल में नहीं है. इसकी जानकारी खुद BMO डॉ. पीएल कुर्र तक को नहीं थी.

Next Story
Share it