प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक में विपक्ष पर खूब बरसे सीएम योगी

UP CM Yogi Adityanath / File Photo
UP CM Yogi Adityanath / File Photo
  • देश विरोधी नारे लगाने वाले विपक्ष का चेहरा करना होगा बेनकाब।
  • आतंकवादियों के शुभचिंतक विपक्ष की नकारात्‍मकता से बचना होगा।
  • लव जेहाद के खिलाफ हमने कदम उठाया तो विपक्ष को परेशानी हो रही।
  • योगी की कार्यकर्ताओं को नसीहत विपक्ष से रहना होगा सतर्क।
  • लोगो को बताना होगा कि ये जो कह रहे हैं उसका मतलब क्‍या है।

लखनऊ। भाजपा प्रदेश कार्यसमिति  की बैठक में शुक्रवार को सीएम योगी विपक्ष पर जम कर बरसे। कार्यसमिति को संबोधित करते हुए सीएम योगी ने कहा कि हमें देश विरोधी विपक्ष का चेहरा बेनकाब करना होगा। आतंकवादियों के शुभचिंतक विपक्ष की नकारात्‍मकता से लोगों को बचाना होगा। योगी ने कहा कि लव जेहाद के खिलाफ हमने कदम उठाया तो विपक्ष को परेशानी हो रही है। उन्‍होंने कार्यकर्ताओं को विपक्ष के भ्रम और छल से सतर्क रहने की नसीहत देते हुए बूथ स्‍तर पर पार्टी को और मजबूत बनाने का आह्वान किया ।

भाजपा प्रदेश कार्यालय में कार्यसमिति के मंच से सीएम योगी ने विपक्ष पर हमला जारी रखते हुए कहा कि हमें बताना होगा कि ये जो कह रहे हैं उसका मतलब क्‍या है। विपक्ष के फैलाए जा रहे भ्रम को दूर करना होगा। लोगों को  विपक्ष की नकरात्मकता से बचाना होगा। याद रखिये कोरोनाकाल में ये चेहरे कहीं नही दिखाई दिए। ये लोग अपने अपने स्तर पर सिर्फ भ्रम  की स्थिति पैदा करके नकरात्मक स्थितियां पैदा कर रहे थे। विपक्ष राष्ट्रीय सुरक्षा के मुद्दे पर कैसे बयानबाजी कर रहा है। इसे लोगों को बताना होगा। मतांतरण के मुद्दे पर मूकबधिर बच्चो को टूल बनाकर,उन्हें अपनी ही व्यवस्था के खिलाफ खड़ा करके भयानक स्थितियां पैदा करने की कुत्सित चेष्टा कर रहे थे।

योगी ने कहा कि लखनऊ के आतंकवाद के मुद्दे पर कैसे बयानबाजी करते हैं। समाजवादी पार्टी की सरकार के समय मे कचहरी ब्लास्ट, बिजनौर सीआरपी एफ कैम्प के हमलावरों के केस वापस करवाने वालों का कल आगरा में पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगवाना इनके चरित्र और चेहरे को उजागर करता है। लव जिहाद कर खिलाफ हमने कदम उठाया तो इनको परेशानी हो रही है। हमको लोगों को बताने की जरूरत है कि ये  जो कह रहे हैं वो क्या है,हमें इनके चेहरे बेनकाब करने होंगे।

See also  UP: भंडारण निगम भर्ती घोटाले में प्राथमिकी दर्ज

योगी ने कहा कि 4 वर्ष पहले गांव गरीब किसान,नौजवान,महिलाएं सरकार के एजेंडे में नही होते थे। ये सिर्फ वोटबैंक तक सीमित होते थे। लेकिन इनके लिए जो योजनाए बनी उसका परिणाम सामने आ रहा है। आज एक क्लिक पर पैसा गरीब के खाते में जा रहा है। बैंक में भीड़ होती है।  हमने किसी की जाति ,मजहब नही देखा। सबको आवास,सबको समान विद्युत आपूर्ति हो रही है। 1 लाख 21 हजार गांवो तक विद्युतीकरण किया गया। आज़ादी के बाद से अब तक इतना कभी नही हुआ था। सड़कों का जाल बिछा, वर्ना उत्तर प्रदेश के बारे में कहा जाता था जहां से गड्ढे शुरू हों वो उत्तर प्रदेश है। जहां अंधेरा शुरू हो वही उत्तर प्रदेश था। लेकिन प्रदेश वही है। सिस्टम वही है। सरकार में चेहरे बदले और कार्य सम्पन्न हुए। उत्तर प्रदेश के बारे में देश मे छवि बनी कानून व्यवस्था का मानक तय हुआ।

सीएम ने कहा कि आज प्रदेश में निवेश का माहौल है। मुम्बई से ढाई लाख करोड़ का निवेश लेकर आ गए। आज उद्योगपति कहते हैं कि 5 साल पहले हम यहां आना नही चाहते थे,लेकिन अब हम यहां निवेश करना चाहते हैं। इसी निवेश के माध्यम से डेढ़ करोड़ रोजगार हमने उपलब्ध करवाये। 4 लाख से ज्यादा सरकारी नौकरी दी गई। सिर्फ योग्यता पर नियुक्तियां मिली। यही चीजें दिखाती हैं कि पारदर्शी व्यवस्था क्या होती है।

पंचायत चुनाव में पार्टी की शानदार जीत पर सीएम योगी ने कार्यकर्ताओं को बधाई देते हुए कहा कि ये सामान्‍य चुनाव नही था। इतने शांतिपूर्ण तरीके से ये चुनाव सम्पन्न हुए इसकी तारीफ हर जनमानस कर रहा है। पंचायत चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने एक मजबूत संगठन की पहचान बना कर रखी। लगभग 7 लाख ग्राम पन्चायत सदस्य ,70 हजार से ज्यादा अन्य प्रतिनिधि, 3 हजार से ज्यादा जिला पंचायत सदस्य चुने गए।

See also  पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे पर वृहद वृक्षारोपण की हो रही तैयारियां

करीब 16 महीने से महामारी से मानवता जूझ रही है पहली लहर में प्रधानमंत्री जी द्वारा जो प्रबन्धन किया गया वो बेहतर माना गया,दूसरी वेव अचानक आयी,उसमे भी कोविड प्रबन्धन के बेहतरीन कार्य हुए, जीवन को बचाने के लिए टेस्ट,ट्रीट,ट्रेस के कार्य किये गए। मार्च 2020 में जब पहला केस आया तो हमारे पास टेस्ट की क्षमता नही थी,जबकि आज हम 4 लाख टेस्ट प्रतिदिन कर रहे हैं।

उत्तर प्रदेश ऐसा पहला राज्य है जिसने 6 करोड़ से ज्यादा टेस्ट किये। कोरोना प्रबन्धन में निगरानी समितियों द्वारा जो ग्रामीण,नगरीय क्षेत्र में कार्य हुए वो अद्भुत हुए। 72 हजार निगरानी समितियों के माध्यम से मास्क,सेनेटाइजर उपलब्ध करवाये गए। कोरोनाकाल में प्रबंन्धन के लिए प्रधानमंत्री द्वारा आत्मनिर्भर पैकेज, विकलांग, दिव्यांग के पेंशन,खाद्यान्न वितरण सबका बेहतरीन प्रबन्धन हुआ।

भारत सरकार के पैकेज से हमने अप्रवासी कामगारों को यहीं पर कार्य के अवसर दिए। योगी ने सतर्क करते हुए कहा कि कोरोना अभी खत्म नही हुआ है। ये सदी की सबसे बड़ी महामारी है,इस से जीवन बचाना है। आजीविका भी बचाना है।

खाद्यान योजना से एक बार मे 15 करोड़ लोग लाभान्वित होते हैं। इसे हम आगे बढ़ा सकें तो बढ़िया होगा । वैक्सीन के लिए प्रधानमंत्री जी को धन्यवाद है। क्योंकि एक साथ दो वैक्सीन बनाई गई । पहली बार महामारी के 9 महीने के भीतर वैक्सीन का निर्माण हुआ। वैक्सीनेशन कार्यक्रम एक राष्ट्रीय कार्यकम है।

किसानों को मिलने वाली सुविधाएं,सिंचाई की योजनाए, दशकों से लंबित पड़ी योजनाए हमने लागू की हैं। किसान को सिंचाई के लिए जल मिल जाये तो उसकी आमदनी बढ़ जाती है। हर घर नल का कार्य बुंदेलखंड,विंध्य क्षेत्र के हर गांव में जारी है। दिसम्बर तक लक्ष्य है कि इसे लगभग पूरा किया जाए। 50 हजार और गांवो में भी पहुचाने की कार्ययोजना है। गन्ना किसानों की समस्याओं का निदान हो रहा है। चीनी मिल सुचारू रूप से जारी हैं।

See also  सिर पर स्टूल और हाथ में डलिया लेकर बचाव करते दिखे उन्नाव पुलिसकर्मियों पर यूपी डीजीपी नाराज

शिक्षा के क्षेत्र में नकलविहीन परीक्षाएं,उच्च शिक्षा में नए विश्विद्यालय खोलने,अभ्युदय कोचिंग योजना,मेडिकल शिक्षा के क्षेत्र में 2017 के बाद से 30 नए मेडिकल कॉलेज का निर्माण हो रहा है। आस्था को लेकर हमारा सड़क से जो संघर्ष होता था,रामजन्मभूमि मंदिर का निर्माण और नई अयोध्या के रूप में रोडमैप को बढ़ाने का कार्य जारी है। प्रयागराज कुम्भ हमारे लिए एक अवसर था।

इज़ ऑफ डूइंग बिजनेस की रैंकिंग में प्रदेश दूसरे नम्बर पर पहुंचा और प्रयास है की हम पहले स्थान पर पहुचें।
सीएम योगी ने विपक्ष पर सवाल करते हुए पूछा कि 1950 से लेकर 2017 तक प्रति व्यक्ति आय क्या थी। जबकि 4 वर्ष में प्रदेश की प्रति व्यक्ति आय को नेशनल लेवल से थोड़ी ही कम रह गई है।

पिछले 4 वर्ष के दौरान लोककल्याण संकल्प पत्र के सभी कार्य पूरे हुए। सभी विभागों ने लक्ष्य तय करके कार्य पूरे किए। भ्रष्टाचार के लूप होल्स को हमने चिन्हित करके कार्रवाई की। माफियों की उन प्रवित्ति को हमने खत्म करने का कार्य किया। करीब 1200 करोड़ की संपत्ति  हमने जब्त की।

योगी ने कहा कि मतदाता पुनरीक्षण सूची पर हमको ध्यान रखना होगा। हमको पता होना चाहिए कि विरोधी हमसे ज्यादा तेज होगा। एक तो वो हमारा फॉर्म भरने न देगा,दूसरा अपना फेक वोटर तैयार कर देगा। इसको लेकर सतर्क रहना होगा।

Advertisement

Dr. SK Singh is a senior journalist, he has also worked for Dainik Jagran and Amar Ujala's newspapers. Follow @RudhauliDr

Related Posts

This Post Has One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *