Top

कर्नाटक में कोरोना से पहली मौत हुई थी, उसका इलाज करने वाला डॉक्टर पॉजिटिव पाया गया

भारत में कोरोना वायरस से पहली मौत कर्नाटक में हुई थी. कलबुर्गी में. मरने वाले 63 साल के शख्स का इलाज जिस डॉक्टर ने किया था, उन्हें कोरोना वायरस से पॉजिटिव पाया गया है. कलबुर्गी के डिप्टी कमिश्नर शरत बी. ने बताया कि डॉक्टर को घर में क्वारंटीन किया गया था. परिवारवालों के साथ. अब डॉक्टर को आइसोलेशन वॉर्ड में शिफ्ट किया जा रहा है.

कई राज्यों में कोरोना पॉजिटिव केस के आंकड़े बढ़ रहे हैं. कर्नाटक के स्वास्थ्य मंत्री बी. श्रीरामुलु ने कहा था कि कर्नाटक में दो और COVID-19 केस मिले हैं. अब राज्य में कन्फर्म केसों की संख्या बढ़कर 11 पहुंच गई है.

सामने आ रहे ताजा मामले

कर्नाटक में यूनाइटेड किंगडम से लौटी 20 साल की एक लड़की और अमेरिका से लौटे 32 साल के एक शख्स संक्रमित पाए गए हैं. सबसे ताजा मामला महाराष्ट्र के पुणे से है. यहां एक महिला संक्रमित पाई गई है. महाराष्ट्र में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 42 हो गई. किसी भी राज्य में ये संख्या सबसे ज़्यादा है. वहीं, पश्चिम बंगाल में कोलकाता से भी एक मामला सामने आया है. इंडियन आर्मी की तरफ से पहला केस रिपोर्ट किया गया है. 31 साल के एक जवान में संक्रमण पाया गया है. उसके पिता ईरान से लौटे थे, जिनसे जवान में ये फैला. फिलहाल दोनों को अलग रखा गया है.

कम्युनिटी स्तर पर वायरस नहीं फैल रहा: ICMR

इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) के डायरेक्टर जनरल डॉक्टर बलराम भार्गव ने कहा है कि फिलहाल भारत में कोरोना वायरस कम्युनिटी स्तर पर नहीं है, पर आने वाले दिनों को लेकर कयास लगाना संभव नहीं है. उन्होंने कहा,

संतोष देने वाली बात है कि फिलहाल कम्युनिटी स्तर पर इसके फैलने के सबूत नहीं हैं. ये कहना जल्दबाजी है कि हमने वायरस को रोक लिया है. हम अपने बॉर्डर को जितनी मजबूती से बंद रखें, उतनी इससे मदद मिलनी चाहिए. हम ये नहीं कह सकते कि कम्युनिटी ट्रांसमिशन नहीं होगा.

ICMR ने 1,020 ऐसे लोगों के रैंडम सैंपल लिए, जिन्हें सांस संबंधी बीमारी, निमोनिया, ज़ुकाम जैसे लक्षण थे. COVID-19 की जांच हुई. पाया गया कि इनमे 500 सैंपल के रिजल्ट निगेटिव आए हैं.

‘इंडियन एक्सप्रेस’ के मुताबिक, भारत में कोरोना के अब तक 147 मामले सामने आ चुके हैं. इनमें तीन लोगों की मौत हो चुकी है. दुनियाभर में इसके 1,98,412 मामले सामने आ चुके हैं. इनमें 7,984 लोगों की मौत हो चुकी है. 82,762 लोग रिकवर हुए हैं.

Next Story
Share it