UP: सिद्धार्थनगर में पत्रकार पर जानलेवा हमला, सीएचसी बेवा पर कवरेज के दौरान पत्रकार की पिटाई

Deadly attack on journalist in Siddharthnagar, journalist beaten up during coverage on CHC Beva
Deadly attack on journalist in Siddharthnagar, journalist beaten up during coverage on CHC Beva/ Basti Khabar

यूपी के सिद्धार्थनगर में पत्रकार पर जानलेवा हमला होने का मामला सामने आया है। कोरोना की जमीनी हकीकत दिखाने पर पत्रकार को गुर्गों ने बेरहमी से पीटा है, पिटाई का विडियो पत्रकार अभय सिंह राठौर ने टिवीटर पर ट्वीट करते हुये उत्तर प्रदेश पुलिस से सवाल किया कि, सच्चाई दिखाना अपराध है क्या? ट्वीट किए गए विडियो में पत्रकार की पिटाई के समय मौके पर कुछ पुलिसकर्मी भी चुपचाप तमाशा देखते नजर आए।

आपको बता दें कि इस मामले में ट्वीट करते हुये बताया गया है कि एसडीएम डुमरियागंज त्रिभुवन प्रसाद पर पिटवाने का आरोप है। सीएचसी बेवा पर कवरेज के दौरान पत्रकार की पिटाई की गई है।

भारत समाचार टीवी चैनल प्रमुख बृजेश मिश्रा ने इस मामले पर कहा कि, – “कोरोना त्रासदी पर गांव-गरीब की कवरेज मे लगे भारत समाचार के डुमरियागंज पत्रकार के साथ मारपीट की गई. ये घटनाक्रम एसडीएम और विधायक की मौजूदगी मे हुआ. सिद्थार्धनगर मे कानून-व्यवस्था का राज नही है. डीएम एसपी आंख बंद किए हुए है. गरीबों की पीड़ा दबेगी नही हमारे पत्रकार कवरेज जारी रखेंगे”।

मामले का विडियो कुछ ही देर मे सोशल मीडिया और टिवीटर पर फैलने लगा। तेजी से वायरल हो रहे इस विडियो को देखने के बाद सिद्धार्थनगर पुलिस हरकत में आई, और मामले पर अपना बयान भी जारी किया।

स्थानीय बीजेपी विधायक व हिन्दू युवा वाहिनी नेता मुकदमा लिखवाने पर अड़े

पत्रकार प्रशांत शुक्ला ने पीड़ित पत्रकार अमीन फारुकी की फोटो को ट्वीट करते हुये ताजा जानकारी दी है कि, “साथी अमीन फारुकी को पुलिस ने पिछले 6 घंटे से थाने में बैठा रखा है। डुमरियागंज MLA और हिन्दू युवा वाहिनी नेता राघवेंद्र प्रताप पुलिस पर बिना तहरीर मुकदमा दर्ज करवाने पर अड़े हैं। अमीन ने बस सवाल पूछने का गुनाह किया। पहले पत्रकार को पीटा अब टॉर्चर और मुकदमा”।

उक्त मामले पर सिद्धार्थनगर पुलिस का एक नया बयान आया है कि, “सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बेंवा, डुमरियागंज में घटित घटना के सम्बंध में किसी भी पक्ष द्वारा कोई प्रार्थना-पत्र नही दिया गया है। उभय-पक्षों द्वारा सुलह हेतु आपस में वार्ता की जा रही है। तहरीर प्राप्त होने पर विधिक कार्यवाही की जाएगी। दोनों पक्ष अपने-अपने घर चले गये है।”

See also  सिद्धार्थनगर: डुमरियागंज के पीड़ित पत्रकार की तहरीर पर लगभग आधा दर्जन लोगों के खिलाफ मामला दर्ज

Advertisement

Editor Basti Khabar Team. Byline- "The Dialogue", "OppIndia", "101 Reporters" Freelancer Uttar Pradesh Based Journalist. Follow @EditorRajan

Related Posts

This Post Has One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *