44.6 C
Uttar Pradesh
Wednesday, May 18, 2022

यूपी में कोविड पर प्रभावी नियंत्रण, उच्च स्तरीय टीम-9 को सीएम के दिशा-निर्देश

भारत

डॉ. एसके सिंह
डॉ. एसके सिंह
Dr. SK Singh is a senior journalist, he has also worked for Dainik Jagran and Amar Ujala's newspapers.

लखनऊ । उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री कार्यालय द्वारा जारी सूचना के अनुसार, ट्रैक, टेस्ट, ट्रीट और टीकाकरण की नीति के सफल क्रियान्वयन से उत्तर प्रदेश में कोविड पर प्रभावी नियंत्रण बना हुआ है। वर्तमान में प्रदेश में कुल 1567 एक्टिव केस हैं। इसमें 1487 लोग घर पर ही स्वास्थ्य लाभ प्राप्त कर रहे हैं। टेस्ट की संख्या बढ़ाये जाने की जरूरत है।

● पिछले 48 घंटे में पूरे प्रदेश में 305 नए केस की पुष्टि हुई, जिसमें गौतमबुद्ध नगर में 124, गाजियाबाद में 41, लखनऊ में 23, आगरा में 20 नए केस शामिल हैं। इसी अवधि 771 लोग स्वस्थ भी हुए। हमीरपुर और ललितपुर में भी दहाई अंक में नए केस की पुष्टि हुई है। इनके कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग और ट्रैवल हिस्ट्री का आकलन भी किया जाए। जिन जिलों में केस अधिक मिल रहे हैं वहां सार्वजनिक स्थानों पर फेस मास्क लगाया जाना अनिवार्य कर दिया है। इसका प्रभावी अनुपालन कराया जाए।

● उत्तर प्रदेश में अब तक कोविड टीके की 31 करोड़ 76 लाख डोज लगाई जा चुकी है। जबकि 11 करोड़ 21 लाख से अधिक कोविड टेस्ट भी किए जा चुके हैं। 18+ आयु की पूरी आबादी को टीके की कम से कम एक डोज लग चुकी है, जबकि 89% वयस्क लोगों को दोनों खुराक मिल चुकी है। 15 से 17 आयु वर्ग में 95.74% से अधिक किशोरों को पहली खुराक मिल चुकी है और 69.17% किशोरों को दोनों डोज लग चुकी है। 12 से 14 आयु वर्ग में 68% से अधिक बच्चे टीकाकवर पा चुके हैं। बच्चों के टीकाकरण और वयस्कों के बूस्टर डोज लगाए जाने को और तेज किए जाने की जरूरत है।

● गांवों में स्वास्थ्य सुविधाओं/सेवाओं की सहज उपलब्धता के लिए ‘मुख्यमंत्री अयोग्य मेले’ सार्थक सिद्ध हो रहे हैं। अब तक 43 मेलों का आयोजन हो चुका है, जहां 01 करोड़ से अधिक लोगों ने विभिन्न स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ लिया। विगत  रविवार को लगभग 1.21 लाख लोगों ने आरोग्य मेले का लाभ उठाया। प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर आयोजित होने वाले आरोग्य मेलों से अधिकाधिक लोगों को लाभान्वित कराया जाए।

● आदरणीय प्रधानमंत्री जी के दिशा-निर्देशन में विगत 05 वर्ष में उत्तर प्रदेश देश में औद्योगिक निवेश के श्रेष्ठतम गंतव्य के रूप में राष्ट्रीय पटल पर उभर कर आया है। ईज ऑफ डूइंग बिजनेस की राष्ट्रीय रैंकिंग में 2017 तक 14वें स्थान पर रहने वाला उत्तर प्रदेश आज द्वितीय पायदान पर है। अब इस रैंकिंग में प्रथम स्थान पर आने के लक्ष्य के साथ “टीम यूपी” को काम करना होगा।

● पिछले यूपी इन्वेस्टर समिट में 4.68 लाख करोड़ से ज्यादा के निवेश प्रस्ताव हमें मिले थे। इनमें से 03 लाख करोड़ से ज्यादा के प्रस्ताव आज धरातल पर साकार हो रहे हैं। आगामी जून माह में प्रदेश के तीसरे ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी आयोजन के लिए सभी तैयारियां समय से पूरी कर ली जाएं। यह आयोजन ‘नए भारत के  नए उत्तर प्रदेश’ की आकांक्षाओं को उड़ान देने वाला होगा।

● निजी क्षेत्र में विश्वविद्यालय स्थापित करने के इच्छुक संस्थाओं को सरकार की ओर से सभी जरूरी सहयोग दिए जाएं। स्थापना संबंधी नियमों/अर्हताओं को यथासंभव सरल भी किया गया है। ऐसे प्रस्तावों को कतई लंबित न रखें।

● नवस्थापित मां शाकुम्भरी राज्य विश्वविद्यालय सहारनपुर, राजा महेंद्र प्रताप सिंह राज्य विश्वविद्यालय अलीगढ़ तथा महाराजा सुहेलदेव विश्वविद्यालय, आजमगढ़ में पूर्णकालिक कुलसचिव, सहायक कुलसचिव, परीक्षा नियंत्रक और वित्त अधिकारी की तत्काल नियुक्ति की जाए। इनके कार्यपरिषद/विद्यापरिषद व अन्य निकायों के गठन का कार्य यथाशीघ्र कराया जाए।

Advertisement
- Advertisement -

सबसे अधिक पढ़ी गई

- Advertisement -

ताजा खबरें