कोरोना पर सरकार का नया फ़ैसला, इन देशों से आने वाला कोई विमान भारत में नहीं उतरेगा

 कोरोना पर सरकार का नया फ़ैसला, इन देशों से आने वाला कोई विमान भारत में नहीं उतरेगा

Government’s new decision on Corona no aircraft coming from these countries will land in India

भारत में विदेशी यात्रियों को रोकने के लिए 15 अप्रैल तक तक़रीबन सारे वीज़ा रद्द किए जा चुके हैं. अब भारत ने इस लॉकडाउन को और तगड़ा करने के लिए फ़ैसला किया है. 16 मार्च, सोमवार को आए नए आदेश के मुताबिक़, अब European Union, The European Free Trade Association, Turkey और United Kingdom से आने वाली सभी फ्लाइट भारत के किसी भी हवाईअड्डे पर नहीं उतर सकतीं. ये बैन अगले आदेश तक जारी रहेगा.

क़तर, यूनाइटेड अरब अमीरात (UAE), ओमान और कुवैत से आने वाले सभी यात्रियों को क्वारंटाइन में दो हफ़्ते रहना ही होगा. COVID- 19 के पॉजिटिव केस लगातार बढ़ने की वजह से स्वास्थ्य मंत्रालय ने बीमार लोगों से अपील की है कि वो ख़ुद को बिल्कुल अलग रखें.

# क्या कहा है सरकार ने?

यात्रा की नई गाइडलाइन जारी करते हुए सरकार ने कहा-

क़तर, यूनाइटेड अरब अमीरात (UAE), ओमान और कुवैत से आने वाले सभी यात्रियों को क्वारंटाइन में दो हफ़्ते रहने का निर्देश 18 मार्च की रात 12 बजे से लागू हो जाएगा. अब तक चीन, इटली, ईरान, कोरिया, फ्रांस, स्पेन और जर्मनी के लिए ही ये नियम लागू था. European Union, The European Free Trade Association, Turkey और United Kingdom से उड़ान भरने वाली हर एयरलाइन को ये बात याद रखनी होगी कि भारत के किसी भी एयरपोर्ट पर उनका डिपार्चर नहीं हो सकेगा. ये नियम अस्थायी तौर पर लागू किए गए हैं और 31 मार्च की रात 12 बजे तक लागू रहेंगे.

READ  जेएनयूः दिल्ली हाईकोर्ट ने कहा, पुराने हॉस्टल नियमों के आधार पर हो छात्रों का रजिस्ट्रेशन

# किन एयरलाइन्स पर असर?

इन देशों से आने वाली बड़ी एयर लाइन हैं- British Airways, Lufthansa, Virgin Atlantic और Turkish Airlines. अगर बाक़ी फ्लाइट्स की बात न की जाए, तो इन मुख्य एयरलाइन्स से ही हर हफ़्ते भारत के कई एयरपोर्ट पर 170 विमान उतरते हैं. वहीं एयर इंडिया London, Copenhagen, Paris, Frankfurt, Stockholm और Istanbul के लिए एक हफ़्ते में 70 फ्लाइट भेजती है.

हालांकि पिछले दो हफ़्तों से कम पैसेंजर आने की वजह से इनमें से ज़्यादातर फ्लाइट पहले से कैंसल चल रही हैं.

# अमेरिका पहले ही ये क़दम उठा चुका है

11 मार्च, बुधवार को देश के नाम दिए संदेश में ट्रंप ने कहा था-

यूरोपीय यूनियन (EU) कोरोना वायरस से प्रभावित चीन समेत अन्य देशों पर यात्रा संबंधी कोई भी प्रतिबंध लगाने में नाकाम रहा है. हम यूरोप से आने वाली सभी फ्लाइट पर 30 दिन का बैन लगा रहे हैं. UK पर ये प्रतिबंध लागू नहीं होगा. अमेरिकी नागरिकों के जीवन और सुरक्षा से ज्यादा महत्वपूर्ण मेरे लिए कुछ भी नहीं है.

इस बीच दुनियाभर में कोरोना वायरस COVID-19 से मरने वालों की संख्या बढ़कर 6654 हो गई है. भारत में कुल 114 केस कोरोना वायरस पॉजिटिव पाए गए हैं, जिनमें से दो लोगों की मौत हो चुकी है.