बीते चार महीनों में फरवरी में सर्वाधिक रही बेरोज़गारी दर

भारतीय अर्थव्यवस्था निगरानी केंद्र द्वारा जारी हालिया आंकड़ों के मुताबिक भारत की बेरोज़गारी दर फरवरी 2020 में 7.78 प्रतिशत पर पहुंच गई है, जो अक्टूबर 2019 के बाद से सबसे ज़्यादा है.

नई दिल्ली: अक्टूबर 2019 के बाद देश की बेरोजगारी दर फरवरी 2020 में सबसे अधिक रही है. भारतीय अर्थव्यवस्था निगरानी केंद्र (सीएमआईई) के सोमवार को जारी आंकड़ों में यह बात सामने आयी है.

रॉयटर्स की रिपोर्ट के मुताबिक फरवरी में बेरोजगारी दर 7.78 प्रतिशत रही, जो जनवरी में 7.16 थी. अक्टूबर 2019 के बाद से यह सर्वाधिक है. सीएमआईई के अनुसार यह अर्थव्यवस्था की मंदी का असर है.

साल 2019 की आखिरी तिमाही में देश की अर्थव्यवस्था बीते छह सालों में सबसे धीमी गति से बढ़ी है. जानकारों के मुताबिक कोरोना वायरस के चलते एशिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था के आगे भी सुस्त रहने का पूर्वानुमान है.

सीएमआईई के अनुसार, फरवरी महीने में ग्रामीण क्षेत्रों में बेरोजगारी दर 7.37 प्रतिशत रही, जो जनवरी में 5.97 फीसदी थी. वहीं शहरी इलाकों में यह जनवरी के 9.70 प्रतिशत से घटकर 8.65 प्रतिशत पर आ गयी.

ज्ञात हो कि इससे पहले फरवरी 2019 में भारत में बेरोजगारी दर अपने रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गई थी. सीएमआईई ने बताया था कि फरवरी 2019 में भारत में बेरोजगारी दर बढ़कर 7.2 प्रतिशत हो गई, जो सितंबर 2016 के बाद सबसे अधिक है.

READ  Basti News Update: प्रवासी मजदूरों को रोजगार प्रशिक्षण हेतु नि:शुल्क टूल किट दिया जाएगा