सरकार को रास नही आई भास्कर की जमीनी हकीकत बयां करने वाली खबरें, दैनिक भास्कर और भारत समाचार चैनल के दफ्तरों में आयकर विभाग का छापा

भारत समाचार चैनल के हेड ऑफिस में आयकर अधिकारियों का छापा
भारत समाचार चैनल के हेड ऑफिस में आयकर अधिकारियों का छापा

दैनिक भास्कर समूह और भारत समाचार के विभिन्न ठिकानों पर इनकम टैक्स इन्वेस्टिगेशन विंग का छापा

भोपाल, इंदौर और जयपुर सहित देश के सभी ठिकानों पर छापे मार कार्रवाई। पूरा सर्च ऑपरेशन दिल्ली और मुंबई टीम के द्वारा संचालित किया जा रहा है।

वित्तीय अनियमितता के आरोप में भास्कर अखबार के मालिकों के घर और संस्थान पर आयकर विभाग के छापे पड़े हैं. जानकारी मिली है कि रात ढाई के बाद से कंपनी के कार्यालयों पर छापेमारी की जा रही है. इनकम टैक्स इन्वेस्टिगेशन विंग की ये छापेमारी भास्कर के नोएडा, जयपुर और अहमदाबाद कार्यालय पर की गई है।

दैनिक भास्कर के अहमदाबाद के एचआर स्टेट हेड के आवास पर भी आयकर विभाग की टीम के पहुंचने की खबर है। समाचार पत्र के अधिकारियों-कर्मचारियों को आनन-फानन में ऑफिस तलब किया गया ताकि आय-व्यय का विवरण हासिल किया जा सके।

इसके अलावा उत्तर प्रदेश के चर्चित भारत समाचार चैनल के हेड ऑफिस सहित चैनल के मालिक बृजेश मिश्रा व स्टेट हेड वीरेन्द्र सिंह के घर पर आयकार टीम ने छापेमारी की है।

बताया जा रहा है कि भारत समाचार चैनल के प्रधान संपादक बृजेश मिश्रा के लखनऊ स्थित गोमती नगर में विपुल खंड के आवास पर इनकम टैक्स की टीमों ने छापेमारी की है। बृजेश मिश्रा लगातार अपने चैनल पर तेवरदार पत्रकारिता कर रहे थे।

इस बीच यह खबर भी सामने आ रही है कि भारत समाचार चैनल के स्टेट हेड वीरेंद्र सिंह के आवास पर भी छापेमारी के लिए आयकर विभाग की टीम पहुंच गई है। वीरेंद्र सिंह का आवास लखनऊ के जानकीपुरम इलाके में है। यहाँ भी छापा मारने इनकम टैक्स की टीमें पहुँची हैं।

See also  कोविड संकट: इलाज के अभाव में बेमौत मर रहे लोग और लाशें ढो रहीं नदियां

भास्कर समूह के सभी कर्मचारियों के फोन जब्त किए गए

बताया जा रहा है कि आयकल विभाग की ये बड़ी रेड है. भास्कर कार्यालय में मौजूद सभी कर्मचारियों के फोन जब्त कर लिए गए हैं. साथ ही किसी को बाहर नहीं जाने दिया जा रहा है. इनकम टैक्स की टीम प्रेस कॉन्प्लेक्स सहित आधा दर्जन स्थानों पर मौजूद है।

महत्वपूर्ण दस्तावेज मिलने का दावा

ईडी, इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के साथ लोकल पुलिस का सपोर्ट भी है. पूरा सर्च ऑपरेशन दिल्ली और मुंबई टीम के द्वारा संचालितकिया जा रहा है. छापेमारी की कार्रवाई में 100 से ज्यादा अधिकारी कर्मचारी शामिल है. अब तक की छापेमारी के दौरान महत्वपूर्ण दस्तावेज मिलने का दावा किया गया है।

छापेमारी को लेकर कांग्रेस का सरकार पर हमला

छापेमारी को लेकर कांग्रेस ने मोदी सरकार पर हमला किया है. कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट किया है, ”रेड जीवी जी, प्रेस की आज़ादी पर कायरतापूर्ण हमला! दैनिक भास्कर के भोपाल, जयपुर और अहमदाबाद कार्यालय पर अब इनकम टैक्स के छापे. लोकतंत्र की आवाज़ को “रेडराज” से नही दबा पाएंगे।”

सरकार को रास नही आई भास्कर की जमीनी हकीकत बयां करने वाली खबरें

माना जा रहा है कि भास्कर समूह द्वारा कोरोना के पहले व दूसरे दौर में जिस तरह से बेबाक खबरों का प्रकाशन किया गया था, वो चाहे ऑक्सीज़न की कमी की हो या चरमराते स्वास्थ्य व्यवस्थाओं की, के कारण उनपर दबाव बनाने के उद्देश्य से यह आयकार की छापेमारी की कार्यवाही हुई है। इसके अलावा भास्कर द्वारा अभी हाल ही में पेगासास स्पाइवेयर के मामले पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से संबन्धित फोटो सहित एक खबर प्रकाशित की गयी थी जिसमें मोदी पर सवाल खड़े किए गए थे कि इस जासूसी सॉफ्टवेअर का प्रयोग पहले ही गुजरात में किसी ओर्किटेक्चर महिला के फोन को टैप करने के लिए किया गया था।

See also  यूपी के सभी CHC और PHC में हेल्थ एटीएम लगाने की कवायद शुरू, 59 तरह की जांचें होंगी फ्री

लोगों की जासूसी मामले में भास्कर द्वारा प्रकाशित इस खबर ने कुछ ही घंटों में पूरे भारत का ध्यान आकर्षित कर लिया था। लेकिन कुछ ही घंटों के भीतर किसी अज्ञता कारण के चलते भास्कर को वह खबर वेबसाइट से हटानी पड़ी। इस खबर के प्रकाशन को मुख्य रूप से इस इनकम टैक्स की छापेमारी से भी जोड़ा जा रहा है।

फिलहाल आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, भास्कर समूह द्वारा बेबाक खबरें प्रकाशित करने की वजह से उस समाचार पत्र के सभी सरकारी व सत्ता से संबंध रखने वालों द्वारा विज्ञापन देने पर रोक लगा दिया गया था। फिर भी भास्कर ने अपने मौजूदा संसाधनों में ही जमीनी स्तर पर ऐसे खबरों को रिपोर्ट किया जो किसी भी अन्य समाचार संस्थान में देखने को नही मिलेंगे।

सत्ता को कटघरे में खड़े करने वाली दैनिक भास्कर समूह द्वारा प्रकाशित कुछ खबरें इस तरह हैं

दैनिक भास्कर की खबरें
दैनिक भास्कर की खबरें
दैनिक भास्कर की खबरें
दैनिक भास्कर की खबरें
दैनिक भास्कर की खबरें
दैनिक भास्कर की खबरें
दैनिक भास्कर की खबरें
दैनिक भास्कर की खबरें
दैनिक भास्कर की खबरें
दैनिक भास्कर की खबरें
दैनिक भास्कर की खबरें
दैनिक भास्कर की खबरें
दैनिक भास्कर की खबरें
दैनिक भास्कर की खबरें
दैनिक भास्कर की खबरें
दैनिक भास्कर की खबरें
दैनिक भास्कर की खबरें

Advertisement

Dr. SK Singh is a senior journalist, he has also worked for Dainik Jagran and Amar Ujala's newspapers. Follow @RudhauliDr

Related Posts

This Post Has One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *