Top

लेखानुदान अथवा अंतरिम बजट क्या है?

लेखानुदान अथवा अंतरिम बजट क्या है?
X

लेखानुदान अथवा अंतरिम बजट: जब देश में राजनीतिक या किसी अन्य कारण से लोकसभा में वार्षिक वित्तीय विवरण न पेश किया जा सके तथा सरकार को धन की अति आवश्यकता हो तब संसद में लेखानुदान पेश किया जाता है।

लोकसभा में पेश किए जाने वाले वार्षिक वित्तीय विवरण में सरकार के आय-व्यय को दर्शित किया जाता है। तथा इसमें भारत की संचित निधि पर भारित व्यय और भारत की संचित निधि से किए जाने वाले अन्य व्यय की आपूर्ति के लिए अपेक्षित राशियों को अलग-अलग प्रदर्शित किया जाता है।

तब तक लोकसभा द्वारा विनियोग विधेयक नही पारित किया जाता है तब तक भारत की संचित निधि से कोई धनराशि नही निकली जा सकती है। जब सरकार लोकसभा से विनियोग विधेयक न पारित कराने की स्थिति में हो या उसे धनराशि की तत्काल आवश्यकता हो तब वह लेखानुदान पेश करती है।

संवैधानिक प्रविधानों के अनुसार, तीन स्थितियों में लेखानुदान पेश किया जा सकता है-

(1)- जब किसी वित्तीय वर्ष में नियमित प्रक्रिया लंबित हो तथा सरकार के अनुमानित व्यय के लिए अग्रिम अनुदान की आवश्यकट हो या

(2)- जब सरकार किसी वार्षिक योजना के लिए आवंटित धनराशि से किसी अप्रत्याशित स्थिति में आवश्यक धन न निकाल पाने की स्थिति में हो या

(3)- जब वित्तीय वर्ष के लिए अनुदान की आवश्यकता हो।

Basti Khabar

Basti Khabar

Basti Khabar Pvt. Ltd. Desk


Next Story
Share it