Top

Kanpur Encounter: कानपुर मुठभेड़ में सीओ बिल्हौर समेत 8 पुलिसकर्मियों की मौत

Kanpur Encounter: कानपुर मुठभेड़ में सीओ बिल्हौर समेत 8 पुलिसकर्मियों की मौत
X

रात एक बजे सीओ बिल्हौर की अगुवाई में हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे को पकड़ने पहुंची थी सर्किल की फोर्स।

कानपुर के चौबेपुर थाना क्षेत्र के बिकरू गांव में दिल दहलाने वाली घटना में हुआ मौत का तांडव। सीओ बिल्हौर सहित आठ पुलिसकर्मियों की हत्या।

रात एक बजे दबिश पर गयी पुलिस टीम पर हुई जमकर फायरिंग। हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे ने साथियो संग की पुलिस पर फायरिंग। नृशंस तरीके से की गयी पुलिसकर्मियों की हत्या।

पता चला है कि विकास दुबे नाम के बदमाश और उसके साथियों ने छत पर चढ़कर पुलिस पर गोलियां बरसाई और उनके असलहे भी लूट लिए। इसके पहले उसने थाने में घुसकर की थी राज मंत्री की हत्या। लगभग 50 की संख्या में दबिश देने पहुंचे थे पुलिसकर्मी।

मुठभेड़ में शहीद हुए पुलिसकर्मियों मे

1-देवेंद्र कुमार मिश्र,सीओ बिल्हौर

शहीद सीओ बिल्हौर देवेंद्र कुमार मिश्र

2-महेश यादव,एसओ शिवराजपुर

शहीद एसओ शिवराज पुर महेश यादव

3-अनूप कुमार,चौकी इंचार्ज मंधना

4-नेबूलाल, सब इंस्पेक्टर शिवराजपुर

5-सुल्तान सिंह कांस्टेबल थाना चौबेपुर

6-राहुल ,कांस्टेबल बिठूर

7-जितेंद्र,कांस्टेबल बिठूर

8-बबलू कांस्टेबल बिठूर अन्य 6 घायल पुलिसकर्मियों को गंभीर हालत में रीजेंसी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। साथ ही मौके पर घटनास्थल पर भारी पुलिस बल तैनात हो चुकी है।

अपराधी विकास दुबे के भाई अतुल दुबे व मामा जयप्रकाश को पुलिस ने मुठभेड़ में ढेर कर दिया है। डीआईजी एसटीएफ अनंतदेव के नेतृत्व में बड़ी कार्यवाही।

कुख्यात हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे के घर छापेमारी में 8 पुलिसकर्मियों के शहीद मामले में, पुलिस से लूटे गए हथियार बरामद।

मारे जाने वालों में विकास का मामा प्रेम प्रकाश पाण्डेय तथा साथी अतुल दुबे शामिल। एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार ने माना पुलिस से चूक हुई, लेकिन इस पर जांच बाद में, फिलहाल गिरफ्तारी पर फोकस जारी

Next Story
Share it