28.1 C
Uttar Pradesh
Monday, October 3, 2022

जिन्दगी सीखने का नाम है, इसे दिनचर्या में शामिल करने से ही विकास के रास्ते खुलते हैं-प्रीति खरवार

भारत

डॉ. एसके सिंह
डॉ. एसके सिंह
Dr. SK Singh is a senior journalist, he has also worked for Dainik Jagran and Amar Ujala's newspapers.

बस्ती।स्वामी दयानन्द विद्यालय सुर्तीहट्टा बस्ती के तत्त्वावधान में आयोजित पुलिस की पाठशाला एवं बालसभा कार्यक्रम आयोजित किया गया जिसमें सुश्री प्रीति खरवार सी ओ रुधौली ने बच्चों को सम्बोधित करते हुए कहा कि जिन्दगी सीखने का नाम है। सीखना और पढ़ना जीवन की दिनचर्या में शामिल करने से ही विकास के रास्ते खुलते हैं। इसके अलावा उन्होंने बच्चों को आत्मरक्षा के तौर तरीके भी बताये।उन्होंने कहा कि विद्यालय में यज्ञ के साथ ही आज से क्षेत्राधिकारी रुधौली का दायित्व मिला है जिसके लिए विद्यालय परिवार की शुभकामनाएं हमारी शक्ति बनेगी।

इससे पूर्व योग शिक्षक गरुण ध्वज पाण्डेय ने वैदिक यज्ञ कराते हुए उनके सफल दायित्व निर्वहन के लिए ईश्वर से प्रार्थना की और यज्ञ की जीवन मे उपयोगिता बताई। इस अवसर पर कार्यक्रम का संचालन करते हुए अदित्यनारायन गिरि ने बताया कि इस पाठशाला से बच्चों में आत्मविश्वास व निर्भयता प्राप्त होती है जो उन्हें हर क्षेत्र में आगे बढ़ने की शक्ति प्रदान करता है। मुख्य अतिथि का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि अधिकारियों को अपने बीच पाकर विद्यार्थियों में उनके जैसा बनने की प्रेरणा मिलती है।  जिससे वे मन लगाकर अपने लक्ष्य की प्राप्ति में जुट जाते हैं।

इस अवसर पर विद्यालय के मेधावी विद्यार्थियों प्रियांशु, गौरी अग्रवाल, अंशिका मद्धेशिया,लक्ष्मी, यश मद्धेशिया, अंश जयसवाल,अंश राज,शेखर ,धैर्य प्रकाश,सृष्टि,अम्बिका को सी ओ महोदया द्वारा पुरस्कृत किया गया। विद्यालय के प्रधानाध्यापक अदित्यनारायण गिरि ने सत्यार्थ प्रकाश व महर्षि दयानंद की जीवनी भेंटकर उन्हें सम्मानित किया। इस अवसर दिनेश मौर्य, अरविन्द श्रीवास्तव, नीतीश कुमार, अनीशा पाण्डेय, श्रेया, प्रियंका, शिवांगी, नन्दिनी आदि शिक्षकों ने बच्चों का सहयोग किया।

Advertisement
- Advertisement -

सबसे अधिक पढ़ी गई

- Advertisement -

ताजा खबरें