Top

महाराष्ट्र से बड़ी खबर: भंडारा के सरकारी अस्पताल में आग से 10 नवजातों की मौत, सीएम उद्धव ने दिए जांच के आदेश

The fire brigade was able to rescue seven infants. (Photo IndiaToday)
X

The fire brigade was able to rescue seven infants. (Photo IndiaToday)

महाराष्ट्र के भंडारा के सरकारी अस्पताल में आग में झुलसने से 10 बच्चों की मौत की खबर सामने आई है. मीडिया रिपोर्ट्स में बताया जाता है कि अस्पताल में आग से दस नवजातों ने दम तोड़ दिया. मृत बच्चों की उम्र एक दिन से लेकर तीन महीने तक बताई जा रही है.

हॉस्पिटल से 7 बच्चों को सुरक्षित निकाला गया

मिली जानकारी के अनुसार अस्पताल के वार्ड में कुल 17 बच्चे थे, जिनमे से 7 बच्चों को सुरक्षित बाहर निकाला गया है. स्थानीय लोगों व अस्पताल स्टाफ द्वारा अनुमान लगाया जा रहा है कि यह आग शार्ट-शर्किट से लगी है. फिलहाल सीएम उद्धव ठाकरे ने मामले की जाँच करने का निर्देश दिया है.

भंडारा अस्पताल प्रबंधन पर लापरवाही का आरोप

आरोप लग रहे हैं कि अस्पताल प्रबंधन की लापरवाही के कारण दस नवजातों की मौत हुई है. सरकारी अस्पताल के आईसीयू वार्ड में 17 बच्चे मौजूद थे. देर रात करीब दो बजे आग लगी. ड्यूटी पर मौजूद नर्स ने आग की भनक लगते ही अधिकारियों को खबर दी. मौके पर पहुंची फायर बिग्रेड ने अस्पताल में लोगों की मदद से रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया. अभी तक आग लगने के कारणों का ठीक से पता नहीं चल सका है.

देश के राष्ट्रपति व प्रधानमंत्री ने शोक व्यक्त किया

घटना से आहत देश के राष्ट्रपति महामहीम राम नाथ कोविंद ने ट्वीट में कहा कि, महाराष्ट्र के भंडारा में हुए अग्नि हादसे में शिशुओं की असामयिक मृत्यु से मुझे गहरा दुख हुआ है। इस ह्रदय विदारक घटना में अपनी संतानों को खोने वाले परिवारों के प्रति मेरी हार्दिक संवेदना।

वहीँ देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट करते हुए कहा कि, महाराष्ट्र के भंडारा में दिल दहला देने वाली त्रासदी, जहां हमने कीमती युवा जीवन खो दिया है। मेरी संवेदनाएं सभी शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं। मुझे उम्मीद है कि घायल जल्द से जल्द ठीक हो जाएं।

[ बस्ती ख़बर की विशेष संक्षिप्त खबरों के लिए Twitter पर जुड़ें, और फॉलो करें। ]

Basti Khabar

Basti Khabar

Basti Khabar Pvt. Ltd. Desk


Next Story
Share it