30.1 C
Uttar Pradesh
Wednesday, August 17, 2022

सावन मास में अपने घरों में यज्ञ कर वातावरण को करें संक्रमण मुक्त: ओम प्रकाश आर्य

भारत

डॉ. एसके सिंह
डॉ. एसके सिंह
Dr. SK Singh is a senior journalist, he has also worked for Dainik Jagran and Amar Ujala's newspapers.

बस्ती। सावन का महीना धार्मिक दृष्टि से अत्यंत पवित्र बताया गया है। इस माह में आमजनमानस शिव की उपासना करते हैं। उनका मानना है कि आदियोगी भगवान शिव उनके जीवन में आने वाली बाधओं को दूर कर सुख शान्ति प्रदान करते हैं। वास्तव में प्राचीन समय से ही आषाढ़ मास की एकादशी से कार्तिक मास की एकादशी तक रोगों का संक्रमण तेज रहता है और पाचन तंत्र कमजोर रहती है ऐसे में व्रत उपवास योग व यज्ञ का महत्व और अधिक बढ़ जाता है जिसके अनुष्ठान से व्यक्ति स्वस्थ और आनंदित रहता है और वातावरण भी स्वच्छ रहता है। इसी उद्देश्य को लेकर आर्य समाज नई बाजार बस्ती के तत्वावधान में दिनांक 12 अगस्त से 19 अगस्त तक श्रावणी उपाकर्म एवं वेद प्रचार सप्ताह का आयोजन किया जाएगा।

इस कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए स्वामी दयानंद विद्यालय के सत्संग भवन में वैदिक यज्ञ, योग व बैठक का आयोजन किया गया जिसमें ओम प्रकाश आर्य प्रधान आर्य समाज नई बाजार बस्ती ने बताया कि वैदिक विद्वान ओमव्रत जी वैदिक प्रवक्ता गुरुकुल तरतारपुर हापुड़ व नेम प्रकाश त्रिपाठी भजनोपदेशक लखनऊ से पधार रहे हैं। रक्षाबंधन से जन्माष्टमी तक चलने वाला यह पर्व लोगों के हृदय में वैदिक संस्कृति को स्थापित करने में सफल होगा। सावन मास में अपने घरों में यज्ञ कर लोग रोगों के संक्रमण से मुक्त हो सकते हैं। ऐसा उद्देश्य लेकर आचार्य देवव्रत आर्य व योग शिक्षक गरूण ध्वज पाण्डेय ने परिवारों में व सार्वजनिक स्थानों पर में यज्ञ की व्यवस्था बनाई है। सायंकालीन कार्यक्रम स्वामी दयानंद विद्यालय सुर्तीहट्टा के सत्संग भवन में संपन्न होगा।

इस अवसर पर अम्बेडकर नगर से पधारे आर्य विद्वान पं विधान चन्द्र त्रिपाठी ने बताया कि भारतीय संस्कृति की रक्षा, सेवा और उसके संवर्द्धन का पर्व है श्रावणी। यज्ञ के माध्यम से  जहाँ व्यक्ति को स्वास्थ्य और समृद्धि प्राप्त होती है वहीं सत्संग से आपसी भाईचारा और समरसता के साथ ही श्रेष्ठ कर्म की प्रेरणा मिलती है।इसकी रक्षा के लिए प्रत्येक भारतीय को यह पर्व मनाना चाहिए। वैदिक यज्ञ कराते हुए आचार्य देवव्रत आर्य ने कहा कि अपने आर्य समाज अपने स्थापना काल से ही वेद प्रचार का कार्य कर रहा है। यह कार्यक्रम निश्चय ही समाज को नई दिशा देने में सफल होगा।

इस अवसर पर योग शिक्षक अजीत पाण्डेय सुभाष चन्द्र आर्य जिला प्रभारी पतंजलि योग समिति बस्ती ने बच्चों को योगाभ्यास कराते हुए कहा कि योगासन बच्चों को स्वस्थ तो रखता है साथ उनमें अच्छी आदतों के विकास भी करता है तथा उनकी स्मरण शक्ति भी तेज होती है। विद्यालय के प्रधानाध्यापक अदित्यनारायण गिरी ने योग शिक्षकों के प्रति आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम में मुख्य रुप से संतोष कुमार, राधेश्याम आर्य घनश्याम आर्य, उपेन्द्र आर्य, विश्वनाथ आर्य, नवल किशोर, रामकुमार वर्मा, अजीत पाण्डेय, राधा देवी, कार्तिकेय, वैष्णवी, गणेश आर्य अनूप कुमार त्रिपाठी, प्रमोद कुमार गुप्ता आदि सम्मिलित रहे।

Advertisement
- Advertisement -

सबसे अधिक पढ़ी गई

- Advertisement -

ताजा खबरें