एनपीएस से पूर्व चयनित शिक्षकों को पुरानी पेंशन का लाभ दिया जाय: संजय द्विवेदी

एनपीएस घोटाले को सार्वजनिक करे सरकार -चेत नारायन सिंह

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ राज्य परिषद की बैठक सम्पन्न लखनऊ। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ के राज्य परिषद...

महिला चपरासी ने किया ऐसा काम बदनाम हो गया पूरा इंटर कॉलेज

मृतक आश्रित महिला चपरासी नें पूरे स्टाफ को बना दिया गजेड़ी। प्रधानाचार्य का आदेश न मानते हुए उनके खिलाफ...

सांगठनिक मजबूती से ही शिक्षक परिलब्धियों की सुरक्षा होगी-चेत नारायण सिंह

पूर्वांचल उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ की समीक्षा बैठक सम्पन्न बस्ती। पूर्वांचल के उत्तर प्रदेशh माध्यमिक शिक्षक संघ की...

स्काउट-गाइड संस्था को बदनाम करने वालों को बेनकाब करें -संजय द्विवेदी

प्रादेशिक चुनाव प्रक्रिया को शून्य घोषित करके पुनः चुनाव कराया जाय स्काउट गाइड की शुल्क वृद्धि आदेश को वापस...

एनपीएस से पूर्व चयनित शिक्षकों को पुरानी पेंशन का लाभ दिया जाय: संजय द्विवेदी

2002 में अध्यापकों की भर्ती विज्ञापित की गई थी 24 दिसम्बर 2004 को परिणाम घोषित किया गया था

2002 में अध्यापकों की भर्ती विज्ञापित की गई थी

24 दिसम्बर 2004 को परिणाम घोषित किया गया था

विषय विशेषज्ञ शिक्षकों को भी पुरानी पेंशन योजना में सम्मिलित किया जाय

संतकबीरनगर। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ के प्रांतीय संयोजक (आईटी सेल) संजय द्विवेदी ने कहा है कि नई पेंशन स्कीम लागू होने से पहले के विज्ञापन से चयनित शिक्षकों को पुरानी पेंशन का लाभ दिया जाना चाहिए। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने विज्ञापन संख्या 1/2002 के तहत नई पेंशन योजना लागू होने के बाद नियुक्त सहायक अध्यापक याचियों को पुरानी पेंशन स्कीम का लाभ देने का निर्देश दिया है।  इसके लिए प्रदेश के सभी जिलाध्यक्ष जिला विद्यालय निरीक्षक के माध्यम से सूचनाओं का संग्रह कर प्रदेश कार्यालय को उपलब्ध कराएं।
                  श्री द्विवेदी मौलाना आजाद इंटर कालेज में उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ की बैठक को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने बताया कि कोर्ट ने अपने नवीन निर्णय में कहा कि नई पेंशन स्कीम लागू होने से पहले के विज्ञापन से चयनित सहायक अध्यापकों को पुरानी पेंशन का लाभ मिलेगा। इसी के साथ कोर्ट ने सरकार के इस तर्क को मानने से इनकार कर दिया कि सहायक अध्यापकों की नियुक्तियां नई पेंशन स्कीम लागू होने के बाद की गई है, इस कारण वे नई पेंशन स्कीम में होंगे। कहा गया था कि सभी सहायक अध्यापकों की नियुक्तियां एक अप्रैल 2005 के बाद की गई हैं। इस कारण वे पुरानी पेंशन स्कीम का लाभ पाने के हकदार नहीं है। वे नई स्कीम में आते हैं। याचिकाओं में इसे चुनौती दी गई
थी।
                श्री द्विवेदी ने बताया कि याचिकाओं पर अधिवक्ता की दलील थी कि याची के साथ चयनित और नियुक्त अन्य सभी अध्यापकों को पुरानी पेंशन स्कीम का लाभ मिल रहा है लेकिन याचियों को इसका लाभ नहीं दिया जा रहा है। सरकार पर दबाव बनाने के लिए प्रभावित अन्य शिक्षकों को भी न्यायालय का रास्ता अख्तियार करना चाहिए।
                श्री द्विवेदी ने कहा है कि प्रदेश के विषय विशेषज्ञ शिक्षक भी 2002 में सेवा में आए थे, उनका आमेलन 2006- 07 में हुआ है, उन्हें भी पुरानी पेंशन योजना का लाभ दिया जाना चाहिए। इसके लिए शिक्षा निदेशक माध्यमिक को पत्र लिखा गया है।
           बैठक में जिलाध्यक्ष महेश राम, जिला मंत्री गिरिजानंद यादव, मोहिबुल्लाह खान, पुनीत कुमार त्रिपाठी सहित अनेक लोग मौजूद रहे।

यूपी की खबरें

एनपीएस घोटाले को सार्वजनिक करे सरकार -चेत नारायन सिंह

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ राज्य परिषद की बैठक सम्पन्न लखनऊ। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ के राज्य परिषद...

महिला चपरासी ने किया ऐसा काम बदनाम हो गया पूरा इंटर कॉलेज

मृतक आश्रित महिला चपरासी नें पूरे स्टाफ को बना दिया गजेड़ी। प्रधानाचार्य का आदेश न मानते हुए उनके खिलाफ...

सांगठनिक मजबूती से ही शिक्षक परिलब्धियों की सुरक्षा होगी-चेत नारायण सिंह

पूर्वांचल उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ की समीक्षा बैठक सम्पन्न बस्ती। पूर्वांचल के उत्तर प्रदेशh माध्यमिक शिक्षक संघ की...

संबंधित खबर

एनपीएस घोटाले को सार्वजनिक करे सरकार -चेत नारायन सिंह

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ राज्य परिषद की बैठक सम्पन्न लखनऊ। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ के राज्य परिषद...

महिला चपरासी ने किया ऐसा काम बदनाम हो गया पूरा इंटर कॉलेज

मृतक आश्रित महिला चपरासी नें पूरे स्टाफ को बना दिया गजेड़ी। प्रधानाचार्य का आदेश न मानते हुए उनके खिलाफ...

सांगठनिक मजबूती से ही शिक्षक परिलब्धियों की सुरक्षा होगी-चेत नारायण सिंह

पूर्वांचल उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ की समीक्षा बैठक सम्पन्न बस्ती। पूर्वांचल के उत्तर प्रदेशh माध्यमिक शिक्षक संघ की...