Top

राजस्थान: चोरी के आरोप में दो दलितों की बेरहमी से पिटाई

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने घटना को ‘भयावह और वीभत्स’ करार देते हुए बृहस्पतिवार को राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार से कहा कि वह इस मामले में तत्काल कार्रवाई करे.

जयपुर/नई दिल्ली: राजस्थान के नागौर जिले में कथित रूप से चोरी करते हुए पकड़े गए दो दलितों की बेरहमी से पिटाई का मामला सामने आया है. पुलिस ने इस संबंध में सात लोगों को हिरासत में लिया है.

दलितों की बेरहमी से पिटाई का वीडियो वायरल होने के बाद यह मामला सामने आया. दोनों दलित चचेरे भाई हैं.

पांचौड़ी थाने के थाना प्रभारी राजपाल सिंह ने बताया कि घटना रविवार को एक दुपहिया वाहन कंपनी के शोरूम में हुई. शोरूम के कर्मचारियों ने कथित तौर पर चोरी करते पकड़े गए दो लोगों से बेरहमी से मारपीट की. इसका वीडियो भी बना लिया गया. यह सामने आने के बाद पीड़ितों ने बुधवार को मामला दर्ज करवाया.

उन्होंने कहा कि पीड़ितों के अलावा एजेंसी की ओर से दोनों के खिलाफ पैसे चुराने के आरोप में मामला दर्ज करवाया गया है. उन्होंने कहा कि मारपीट के संबंध में पांच लोगों को हिरासत में लिया गया है. मामले की जांच की जा रही है.

इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार, अपनी शिकायत में दोनों आरोपियों ने कहा है कि कर्नू गांव की एजेंसी में दोनों मोटरसाइकिल की सर्विसिंग कराने गए थे लेकिन कर्मचारियों ने चोरी का आरोप लगाकर उनकी पिटाई कर दी.

मारपीट के विचलित करने वाले वीडियो में एक व्यक्ति को कथित रूप से पेट्रोल में एक पेचकश डुबोते हुए दिखाया गया है और फिर उसे दो में से एक युवक के निजी अंगों में डाल रहा है.

बुधवार को वीडियो वायरल होते ही नागौर के सांसद हनुमान बेनीवाल ने कहा कि घटना मानवता को शर्मसार करती है और उन्होंने आरोपियों पर कड़ी कार्रवाई की मांग की है.

सिंह ने कहा, शुरू में दोनों पक्ष समझौता कर चुके थे और हमारे पास कोई शिकायत दर्ज नहीं कराई गई थी. लेकिन वीडियो वायरल होने के बाद, हमें एक शिकायत मिली और आईपीसी की धाराओं के तहत मारपीट, गलत तरीके से कैद करने के साथ-साथ अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निवारण) अधिनियम के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई.

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने घटना को ‘भयावह और वीभत्स’ करार देते हुए बृहस्पतिवार को प्रदेश की अशोक गहलोत सरकार से कहा कि वह इस मामले में तत्काल कार्रवाई करे.

गांधी ने ट्वीट कर कहा, ‘राजस्थान के नागौर में दो दलित नौजवानों को बर्बरता के साथ प्रताड़ित किए जाने का हालिया वीडियो भयावह और वीभत्स है.’ उन्होंने कहा, ‘मैं राज्य सरकार से आग्रह करता हूं कि वह स्तब्ध करने वाले इस अपराध के दोषियों को न्याय की जद में लाने के लिए तत्काल कार्रवाई करे.’

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)

Next Story
Share it