30 C
Uttar Pradesh
Sunday, October 2, 2022

सभी वर्ग के लोगों को वेद-पथ दिखाने व जीवन में धारण कराने का महापर्व है श्रावणी उपार्कम

भारत

डॉ. एसके सिंह
डॉ. एसके सिंह
Dr. SK Singh is a senior journalist, he has also worked for Dainik Jagran and Amar Ujala's newspapers.

बस्ती। आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर आर्य समाज नई बाजार बस्ती द्वारा आयोजित श्रावणी उपाकर्म एवं वेदप्रचार कार्यक्रम में सभी वर्गों को जोड़ने के लिए कार्यकर्ता घर घर जाकर लोगों को वैदिक यज्ञ करने के लिए प्रेरित कर रहे हैं। श्रावणी उपाकर्म सभी वर्ग के लोगों को वेदपाठ दिखाने का महापर्व है। यह जानकारी देते हुए ओम प्रकाश आर्य ने प्रधान आर्य समाज नई बाजार बस्ती ने बताया कि इसी भावना से प्रेरित होकर रेलवे स्टेशन के किनारे बसे निषाद टोला में उपेन्द्र आर्य के नेतृत्व में वैदिक यज्ञ का आयोजन किया गया जिसमें रोहित-मिथलेश, तारा देवी मुख्य यजमान रहीं।

विद्वानों ने सभी लोगों को माता, पिता, गुरु, अतिथि और पति पत्नी आपस मे एक दूसरे के लिए देवी देवता हैं। इन पाँच  देवताओं की श्रध्दा पूर्वक सेवा से संतुष्ट करने का उपदेश दिया। कार्यक्रम का संचालन करते हुए देवव्रत आर्य ने बताया कि 18 अगस्त को इंजीनियर राजेश श्रीवास्तव कैलाशी के नेतृत्व में लौकियहवा मुहल्ले में वैदिक यज्ञ का आयोजन किया गया है। इसके अलावा स्वामी दयानन्द विद्यालय में बच्चों और शिक्षकों को उपदेश करते हुए आचार्य ओमव्रत ने वेद, उपवेद, शास्त्र, उपनिषद, व सोलह संस्कारों के बारे में बताते हुए कहा कि वेद सब सत्य विद्याओं की पुस्तक है। वेद का पढ़ना पढ़ाना सब आर्यों का परम धर्म है। पंडित नेम प्रकाश त्रिपाठी ने भजनोपदेश करते हुए बच्चों को सम्बोधित करते हुए कहा कि बच्चे वे कहलाते हैं जो बुराइयों से अपने आप को बचाते हैं। इसलिए सभी बच्चों को गायत्री मंत्र का जप करना चाहिए। इस अवसर पर बेटी महिमा ने ईश्वर भजन सुनाकर सबका मन मोह लिया।

विद्यालय के प्रधानाध्यापक अदित्यनारायण गिरि ने विद्वानों के प्रति आभार व्यक्त करते हुए कहा कि आज आवश्यकता है कि प्रत्येक विद्यालय में वैदिक ज्ञान के बारे में बताया जाय क्योंकि पाठ्यक्रम में वैदिक शिक्षा की न्यूनता है। इससे बच्चों में नैतिक आचरण का विकास होता है।

इस अवसर पर अलख निरंजन आर्य, राम सनेही, अनीशा पाण्डेय, रिंकी दूबे, साक्षी गुप्ता, मंगलम, प्रियंका गुप्ता, शिवांगी, दिनेश कुमार मौर्य, अरविन्द कुमार, नितेश कुमार, विजय कुमार, किरन सिंह, अजय कुमार बरनवाल, किसमता देवी, महिमा, मिथलेश, श्लोक, प्रियांशू, मयंक, मीना, स्मिता देवी, फूलमती, अशोक कुमार, प्रिंस, आशा देवी, विद्या देवी, उषा देवी, संदीप कुमार, गुड़िया, अंजनी, कमलावती, मैना देवी, नीलम, शशि, विंध्येश्वरी, कमला देवी, विश्वनाथ, सुरेन्द्र शर्मा, चंद्रभान शर्मा, प्रेमा देवी सहित अनेक लोग उपस्थित रहे।

Advertisement
- Advertisement -

सबसे अधिक पढ़ी गई

- Advertisement -

ताजा खबरें