Top

सर्वे: बेस्ट सीएम के मामले में योगी आदित्यनाथ ने एक बार फिर बाजी मार ली है

सर्वे: बेस्ट सीएम के मामले में योगी आदित्यनाथ ने एक बार फिर बाजी मार ली है
X

इंडिया टुडे कार्वी इनसाइट्स मूड ऑफ द नेशन सर्वे के मुताबिक उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बेस्ट मुख्यमंत्री चुने गए हैं. 24 फीसदी लोगों का मानना है कि सीएम के तौर पर योगी अच्छा कर रहे हैं. हालांकि विपक्ष कानून व्यवस्था के मुद्दे पर सरकार को घेर रहा है. आरोप लगा रहा है कि राज्य में हत्या, रेप और किडनैपिंग की घटनाएं बढ़ी हैं.

इंडिया टुडे कार्वी इनसाइट्स मूड ऑफ द नेशन के जनवरी में किए गए सर्वे में 18 फीसदी लोगों का मानना था कि सीएम के तौर पर योगी अच्छा काम कर रहे हैं. सर्वे के मुताबिक समय के साथ योगी की लोकप्रियता बढ़ी है.

Yogi Best Cm
Yogi Best Cm

सर्वे के मुताबिक दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल बेस्ट सीएम की लिस्ट में दूसरे नंबर पर हैं. उन्हें 15 फीसदी लोगों ने बेस्ट माना. केजरीवाल ने भी जनवरी के मुकाबले अपनी लोकप्रियता में इजाफा किया है, तब वे 11 फीसदी लोगों की पसंद थे. तीसरे नंबर पर आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाई एस जगन मोहन रेड्डी हैं. उन्हें 11 फीसदी लोगों ने पंसद किया है. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को 9 फीसदी लोगों ने बेस्ट सीएम माना है. जनवरी के मुकाबले उनकी लोकप्रियता में कमी आई है. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के साथ पांचवे नबंर पर हैं.

Cm Yogi No 1
Cm Yogi No 1

जनवरी के मुकाबले उद्धव ठाकरे की लोकप्रियता में थोड़ा इजाफा हुआ है, जबकि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की लोकप्रियता में कमी आई है. इसके बाद ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक, तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी. एस येदियुरप्पा हैं.

कैसे हुआ सर्वे?

मूड ऑफ दे नेशन सर्वे में 19 राज्यों की कुल 97 लोकसभा और 194 विधानसभा क्षेत्र के लोगों को शामिल किया गया. 12021 लोगों से बात हुई. जिन 19 राज्यों में ये सर्वे किया गया उनमें आंध्र प्रदेश, असम, बिहार, छत्तीसगढ़, दिल्ली, गुजरात, हरियाणा, झारखंड, कर्नाटक, केरल, मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र, ओडिशा, पंजाब, राजस्थान, तमिलनाडु, तेलंगाना, उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल शामिल हैं. ये सर्वे 15 जुलाई से 27 जुलाई के बीच किया गया. सर्वे में 52 फीसदी पुरुष, 48 फीसदी महिलाएं शामिल थीं. इनमें से 67 फीसदी ग्रामीण और 33 फीसदी शहरी थे.

सर्वे में 86 फीसदी हिन्दू, 9 फीसदी मुस्लिम और 5 फीसदी अन्य धर्म के लोगों से उनकी राय जानी गई. सर्वे में शामिल 57 फीसदी 10 हजार रुपये महीने से कम की आमदनी वाले थे, जबकि 28 फीसदी 10 से 20 हजार रुपये और 15 फीसदी 20 हजार रुपये महीने से ज्यादा कमाने वाले थे. इनमें किसान, नौकरीपेशा, बेरोजगार, व्यापारी, छात्र और अन्य को शामिल किया गया.

Next Story
Share it