Top

"स्वामित्व योजना" में बस्ती बना प्रदेश का पहला जनपद: डीएम

स्वामित्व योजना में बस्ती बना प्रदेश का पहला जनपद: डीएम
X

  • इस योजना से अब अविभाजित ग्रामीण आबादी का शुद्ध-शुद्ध अभिलेखीकरण हो सकेगा।
  • स्वामित्व प्रमाण पत्र (घरउनी) का वितरण प्रधानमंत्री द्वारा 2 अक्टूबर को किया जाएगा।

बस्ती। भारत सरकार द्वारा संचालित ‘‘स्वामित्व योजना‘‘ में चयनित समस्त राजस्व ग्रामों में स्थलीय सर्वेक्षण एवं ड्रोन सर्वेक्षण सहित समस्त कार्यवाहिया पूर्ण कर निर्धारित समयावधि के अन्तर्गत स्वामित्व प्रमाण पत्र जनरेट करने में बस्ती प्रदेश का पहला जनपद बना है। उक्त जानकारी जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने दी है। प्रदेश में सबसे पहले स्वामित्व प्रमाण पत्र तैयार होने पर जिलाधिकारी द्वारा संबंधित कर्मचारियों एवं अधिकारियों की प्रशंसा करते हुए बधाई दिया गया है। अगले चरण के कार्य को भी शासन एवं परिषद द्वारा निर्धारित समयावधि के अन्तर्गत पूर्ण कराये जाने का निर्देश प्रदान किया गया है।

उल्लेखनीय है कि भारत सरकार ने केन्द्रीय क्षेत्र की योजना ‘‘स्वामित्व‘‘ का कार्यान्वयन करने का निर्णय लिया है। इस योजना का उद्देश्य ग्रामीण आबादी क्षेत्रों का सीमांकन, पंचायती राज मंत्रालय, राज्य के पंचायती राज विभाग, राज्य के राजस्व विभागों और भारतीय सर्वेक्षण विभाग के सहयोग से ड्रोन सर्वेक्षण तकनीक का उपयोग करते हुए करना है।

उन्होने बताया कि इस योजना के सफलतापूर्वक पूर्ण हो जाने पर अविभाजित ग्रामीण आबादी का शुद्ध-शुद्ध अभिलेखीकरण हो जायेंगा। साथ ही सम्पत्ति कर का सही-सही निर्धारण हो जायेंगा। सम्पत्ति कर का सही-सही निर्धारण हो जाने से ग्राम पंचायतों की आय का श्रोत बढेंगा तथा आय बढने पर ग्राम पंचायते उनका उपयोग ग्राम के सुनियोजित विकास में कर सकेंगी, जिससे ग्राम में रहने वाले सभी ग्रामवासियों को और अधिक सुविधाए प्राप्त हो सकेंगी।

उक्त के अतिरिक्त अविभाजित ग्रामीण आबादी का शुद्ध-शुद्ध अभिलेखीकरण हो जाने से ग्राम में आवासित सभी लोगों को आबादी में उनके भूमि के हिस्से की जानकारी हो सकेंगी। ऐसा होने पर ग्रामवासियों में वाद-विवाद, झगड़ा आदि के मामले अत्यन्त न्यून हो जायेंगे तथा शहरी क्षेत्रों के मकानों की भाॅति स्वामित्व प्रमाण पत्र के आधार पर ग्रामीण आबादी के मकानों पर भी बैंक ऋण आदि सुगमता से उपलब्ध होंगे।

यह केन्द्र एवं राज्य सरकार की अत्यन्त महत्वाकांक्षी योजना है। इस योजना के अन्तर्गत पूर्वांचल के 38 जनपदों जिसमें बस्ती भी सम्मिलित है में पायलट प्रोजेक्ट के तहत प्रत्येक जनपद 10-10 राजस्व ग्रामों का चिन्हाॅकन कर कार्यवाही पूर्ण किए जाने का कार्य चल रहा है। पायलट प्रोजेक्ट के ग्रामों में स्वामित्व योजना से संबंधित समस्त कार्यवाहिया पूर्ण हो जाने पर स्वामित्व प्रमाण पत्र (घरउनी) के वितरण का शुभारम्भ मा0 प्रधानमंत्री जी द्वारा महात्मा गाॅधी जयन्ती के अवसर पर दिनाॅक 02 अक्टूॅबर 2020 को किया जायेंगा।

जनपद बस्ती में इस योजनान्तर्गत पायलट प्रोजेक्ट हेतु तहसील सदर के 05 राजस्व ग्राम दौलतपुर तप्पा पड़िया, ग्राम सेखुई तप्पा पड़िया, ग्राम शाहपुर, कन्चनपुर एवं खरहरा तथा तहसील भानपुर के 05 राजस्व ग्राम कोपा, बनटिकरा, बैदौला, असुरैना एवं ग्राम डढिया को चयनित किया गया है। जिसमें उक्त योजना का सफलतापूर्वक क्रियान्वयन किया गया है।

Next Story
Share it