28.3 C
Uttar Pradesh
Tuesday, October 4, 2022

योग को जीवन मे अपनाने के लिए कोई उम्र नहीं होती: संजय

भारत

डॉ. एसके सिंह
डॉ. एसके सिंह
Dr. SK Singh is a senior journalist, he has also worked for Dainik Jagran and Amar Ujala's newspapers.

बस्ती। आर्य समाज व भारत स्वाभिमान समिति बस्ती द्वारा थाना गौर में आयोजित योग शिविर में योग शिक्षकों ने पुलिसकर्मियों को स्वस्थ व तनाव मुक्त जीवन शैली के लिए प्राणायाम, व्यायाम, आसन व मुद्राओं का प्रशिक्षण दिया। इस अवसर पर कृतज्ञता व्यक्त करते हुए थानाध्यक्ष संजय कुमार सिंह ने कहा कि योग हमारे जीवन की अनियमितताओं व अनिश्चितताओं को दूर करके जीवन को और निश्चित बनाता है। योग को अपने जीवन में अपनाने के लिए कोई उम्र नहीं होती सभी आयु के लोग इसे सहजता और सरलता से अपनाकर सकारात्मक परिणाम प्राप्त किया जा सकता है।

योग प्रशिक्षक गरुण ध्वज पाण्डेय द्वारा थानाध्यक्ष को सत्यार्थ प्रकाश भेंट कर स्वाध्याय करने की प्रेरणा दी गई। इससे पूर्व प्राणायाम कराते हुए गरुण ध्वज पाण्डेय ने भस्त्रिका, कपालभाति, अनुलोम विलोम, शीतली, सीत्कारी, भ्रामरी व उद्गीथ प्राणायाम कराते हुए उसके लाभों व बरती जाने वाली सावधानियों के विषय में बताया। योग शिक्षक आदित्य नारायण गिरि ने ताड़ासन, ध्रुवासन, वृक्षासन , सेतुबंध आसन, वज्रासन, उष्ट्रासन, पवनमुक्तासन सहित कई आसनों के लाभ बताते हुए कहा कि हम जीवन में भौतिक शक्ति का संचय तो बड़े मन से करते है पर आध्यात्मिक शक्ति संचय करने में तत्पर नहीं रहते परिणाम स्वरूप रोग शोक हमें घेरे रहते हैं। मन को नियंत्रित करने के लिए हमे चित्त की वृत्तियों को नियंत्रित करना होगा। नियंत्रित मन रोगों को दूर करने में बहुत सहयोगी है।

इस अवसर पर एस एस आई रामेश्वर यादव हेड कांस्टेबल राजकुमार यादव, दयाराम एस आई अमित कुमार सिंह, कमलेश कुमार गौड़, दिलीप कुमार सिंह, रमेश कुमार यादव, कांस्टेबल शुभम सिंह, कुंदन, कृष्ण कुमार, संतोष गौड़, ईशांत, विनीत, अनुभव यादव, गोविंद गौड़, चरनजीत, लवकुश यादव, चंद्रशेखर यादव राम विश्वकर्मा राजेश यादव महिला कांस्टेबल पूजा राज, ममता चौहान, संध्या गुप्ता, सुमन गौतम सहित अनेक लोग उपस्थित रहे।

Advertisement
- Advertisement -

सबसे अधिक पढ़ी गई

- Advertisement -

ताजा खबरें