28 C
Uttar Pradesh
Saturday, September 18, 2021

यूपी: उन्नाव में पुलिसिया टॉर्चर से मारे गये फैसल केस में आरोपी पुलिसकर्मियों के ख़िलाफ़ धारा 302 के तहत मुकदमा दर्ज

भारत

मोहम्मद फैसल के शव को दफनाते समय मौके पर मौजूद प्रशासनिक अधिकारी व स्थानीय लोग/ फोट साभार - @ShayarImran
मोहम्मद फैसल के शव को दफनाते समय मौके पर मौजूद प्रशासनिक अधिकारी व स्थानीय लोग/ फोट साभार – @ShayarImran

उन्नाव। जिले में सब्जी विक्रेता मोहम्मद फैसल (18) की पुलिस कस्टडी में पिटाई से मौत होने का मामला सामने आया था। शुक्रवार को कोरोना कर्फ्यू के दौरान ठेले पर आलू बेच रहे सब्जी विक्रेता को पुलिस पकड़कर कोतवाली ले गई। वहां अचानक उसकी हालत बिगड़ गई। पुलिस आनन-फानन उसे लेकर सीएचसी पहुंची जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। सब्जी विक्रेता की मौत से आक्रोशित परिजनों ने पुलिस पर पिटाई का आरोप लगाते हुए सीएचसी में हंगामा शुरू कर दिया था।

सब्जी विक्रेता की मौत की खबर कुछ ही देर में उन्नाव से लेकर पूरे प्रदेश में आग की तरह फैल गयी। इससे पुलिसिया कार्यप्रणाली पर लोगों ने सवाल खड़े करते हुये दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कड़ी कानूनी कार्यवाही की मांग करने लगे।

इस मामले पर उन्नाव पुलिस पर आरोप है कि लॉकडाउन का उल्लंघन करने के नाम पर उसने सब्जी बेचने वाले 18 वर्षीय फैसल को कस्टडी में पीट-पीट कर मार डाला।

घटना से आक्रोशित स्थानीय लोगों का भारी संख्या में हुजूम घटनास्थल पर जमा हो गया। कई घंटों से उन्नाव के बांगरमऊ चौहारे पर फैसल के परिजन बेटे की लाश लेकर बैठे रहे कि शायद पुलिस का कोई आला अधिकारी आये और हत्यारे पुलिस वालों पर मुकदमा कायम हो। हालात बिगड़ते देख तीन थानों की पुलिस के साथ कई पुलिस अधिकारी पहुंचे और जांच के बाद कार्रवाई का आश्वासन देकर भीड़ शांत कराने का प्रयास किया। इस दौरान भीड़ और पुलिस के बीच धक्कामुक्की हुई। रात तक लोग जाम लगाए हुए थे। 

घटना की सूचना के काफी देर बाद एसडीएम दिनेश कुमार, एएसपी शशिशेखर सिंह, सीओ सफीपुर बीनू सिंह तीन थानों की फोर्स के साथ मौके पहुंचे और भीड़ को समझाने का प्रयास किया। मृतक के परिजन पूरी कोतवाली को निलंबित करने और उचित मुआवजा दिलाने की मांग करते रहे।

जब घटना की प्रदेश स्तर पर निंदा शुरू हो गयी और हजारों की संख्या में लोग सड़कों पर आकार पुलिस वालों के खिलाफ नारेबाजी करने लगे तब कहीं जाकर प्रशासनिक अधिकारियों का आला-अमला जागा। और देर रात सूचना मिली की दो पुलिस वालों पर हत्या का मुकदमा हो रहा है। रात लगभग 10:30 बजे इस मामले में 2 सिपाहियों और 1 होमगार्ड के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया।

उन्नाव में पुलिसिया टॉर्चर से मारे गये फैसल को दफनाने की तैयारी करते स्थानीय लोग/ फोटो- साभार @ShayarImran
उन्नाव में पुलिसिया टॉर्चर से मारे गये फैसल को दफनाने की तैयारी करते स्थानीय लोग/ फोटो- साभार @ShayarImran

आज शनिवार को मोहम्मद फैसल का शव उसके पैतृक कब्रिस्तान रेलवे स्टेशन के आगे शनिवार सुबह 11 बजे लाया गया और यहीं अंतिम संस्कार किया गया। इस दौरान भारी पुलिस बल तैनात रहा।

- Advertisement -

सबसे अधिक पढ़ी गई

- Advertisement -

ताजा खबरें