Top

UP Government Scheme: दुर्घटना में किसान की मौत होने पर मिलेगा पांच लाख

-मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना में दिव्यांग्ता होने पर भी 5 लाख की सहायता मिलेगी- डीएम।

बस्ती| जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने बताया कि प्रदेश सरकार ने मुख्यमंत्री किसान दुर्घटना कल्याण योजना के तहत किसी भी किसान की मौत, किसी एक्सीडेंट से हो जाती है, और उसके नाम खतौनी में थोड़ी भी जमीन दर्ज है तो उसके परिवार को पांच लाख रुपया मिलेगा।

नई व्यवस्था के अनुसार अब तक भूमिहीन व्यक्ति जो पट्टे की किसी जमीन पर अथवा बटाई कर खेती करता है, तो उसे और उसके परिवार को भी इस योजना का लाभ मिलेगा। अगर कोई किसान एक हाथ, एक पैर, एक आंख अर्थात अस्थाई दिव्यांगता 50% से अधिक होने पर सहायता राशि ढाई लाख मिलेगी। अस्थाई दिव्यांगता 25% से अधिक 50% से कम होने पर सवा लाख दिए जाएंगे।

इस योजना का लाभ 18 से 70 वर्ष तक की उम्र वालों को मिलेगा। अगर किसी किसान की मौत विकलांगता या आत्महत्या अथवा अपराधिक कारणों से होती है तो उसे इस योजना का लाभ नहीं मिल सकेगा।

आगजनी, बाढ़, बिजली गिरने, करंट लगने, सर्पदंश, जानवर के आक्रमण, समुद्र नदी तालाब या किसी कुएं में डूबने, अथवा तूफान, पेड़ गिरने से दबने, रेल, सड़क मार्ग अथवा अन्य मार्ग में दुर्घटना, भूस्खलन, भूकंप, गैस रिसाव, विस्फोट, सीवर चैंबर में गिरने पर मौत या विकलांगता होती है, तो उसे या फिर सारे परिवार को इस योजना का लाभ मिलेगा। दुर्घटना होने पर मृत्यु प्रमाण पत्र, वारिस प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र के साथ आवेदन करना होगा। विकलांगता की दशा में सीएमओ का प्रमाण पत्र माना जाएगा। सांप या विषैले जंतु के काटने से मौत होने का पोस्टमार्टम रिपोर्ट लगाना पड़ेगा।

Next Story
Share it