31.8 C
Uttar Pradesh
Tuesday, August 16, 2022

Uttar Pradesh Education Update: आज से खुलेंगे 9वीं से 12वीं तक के स्कूल

भारत

डॉ. एसके सिंह
डॉ. एसके सिंह
Dr. SK Singh is a senior journalist, he has also worked for Dainik Jagran and Amar Ujala's newspapers.

प्रदेश में स्कूल केवल सोमवार से शुक्रवार यानी पांच दिन ही खुलेंगे. शनिवार और रविवार को स्कूल बंद रहेंगे. स्‍कूलों में कोरोना को लेकर इंतजामों के निरीक्षण के लिए अधिकारियों की एक टीम भी बनाई गई है जिसके लिए 60 अधिकारियों को तैनात किया गया है.

(School Reopen in Uttar Pradesh): उत्तर प्रदेश में आज से माध्यमिक स्कूल, इंटर कॉलेज खुलेंगे. यूपी सरकार की ओर से जारी आदेश के मुताबिक, 16 अगस्त से कक्षा 9 से 12 तक के स्कूल खोले जा रहे हैं. प्रदेश में स्कूल केवल सोमवार से शुक्रवार यानी पांच दिन ही खुलेंगे.

शनिवार और रविवार को स्कूल बंद रहेंगे. स्‍कूलों में कोरोना को लेकर इंतजामों के निरीक्षण के लिए अधिकारियों की एक टीम भी बनाई गई है जिसके लिए 60 अधिकारियों को तैनात किया गया है.

जिन स्कूलों में इंतजामों की कमियां पाई जाएंगी उनका समाधान कर शिक्षा निदेशक व सचिव यूपी बोर्ड द्वारा दूर करवाई जाएगी. माध्यमिक शिक्षा विभाग की अपर मुख्य सचिव आराधना शुक्ला ने आदेश जारी कर दिया है.

स्‍कूलों के निरीक्षण के लिए 60 अधिकारियों की तैनाती

माध्यमिक शिक्षा विभाग की ओर से जारी आदेश के अनुसार, स्‍कूलों में निरीक्षण के लिए जिलेवार अधिकारियों की ड्यूटी लगाई गई है. आदेश के मुताबिक, विशेष सचिव शम्भु कुमार, नेहा प्रकाश, उदय भानु त्रिपाठी को बाराबंकी, फतेहपुर, मिर्जापुर की जिम्मेदारी सौंपी गई है। इसी तरह शिक्षा निदेशक विनय पाण्डेय को लखनऊ, अपर निदेशक मंजू शर्मा को सीतापुर, महेन्द्र देव को मेरठ, अंजना गोयल को प्रतापगढ़, यूपी बोर्ड सचिव दिव्यकांत शुक्ला को प्रयागराज, जेडी बरेली अजय कुमार को बदायूं व शाजहांपुर, जेडी वाराणसी प्रदी कुमार को चंदौली व जौनपुर, डीडी विकास श्रीवास्तव को वाराणसी की जिम्मेदारी दी गई है. डायट प्राचार्य व उप प्राचार्य, सहायक निदेशक, वरिष्ठ विशेषज्ञ समेत 60 अधिकारियों को निरीक्षण करना होगा.

इन दिशा निर्देशों का करना होगा पालन

  • स्‍कूल दो पालियों में सुबह 8 से 12 और 12.30 से 4.30 बजे तक चलेंगे.
  • छुट्टी एक साथ नहीं की जाएगी.
  • एक पाली में 50 फीसदी बच्चे ही होंगे.
  • स्‍कूल में सैनिटाइजर, थर्मल स्कैनिंग, पल्स ऑक्सीमीटर, प्राथमिक उपचार की व्यवस्था होनी चाहिए.
  • संक्रमण के किसी भी लक्षण की दशा में बच्‍चों को या टीचर्स को वापस घर भेज दिया जाएगा.

सैनिटाइज किए गए स्कूल

स्कूल खोलने की तैयारियों के तहत परिसर को सैनेटाइज किया गया है. छात्रों को खड़े होने और बैठने के लिए निशान बनाए गए हैं. अभिभावकों के साथ-साथ टीचिंग स्टाफ को भी जरूरी दिशानिर्देश बता दिए गए हैं. तय समय सारिणी के आधार पर कक्षाएं चलेंगी. शासन की ओर से जारी टाइम टेबल के हिसाब से कॉलेज अपनी क्लासेस चलाएंगे. 9वीं से 12वीं की आधी क्षमता 8-12 और आधी क्लास 12.30 से 4.30 तक आएंगे. हालांकि स्कूलों को अधिकार है कि वह अपने संसाधनों के हिसाब से अलग-अलग समय पर कक्षाएं चला सकें.

Advertisement
- Advertisement -

सबसे अधिक पढ़ी गई

- Advertisement -

ताजा खबरें