Top

Uttar Pradesh Lockdown Effect: शराब बिक्री में भारी गिरावट से दुकानदारों के उड़े होश

-दुकानदारों ने लाइसेंस फीस माफ करने की मांग की है।

लखनऊ| प्रदेश में मदिरा की बिक्री में अप्रत्याशित रूप से गिरावट आने लगी, जहां दुकानदारों के होश उड़े हुए हैं। वहीं आबकारी विभाग भी सकते में आ गया है। अगर ऐसी ही पोजीशन रही तो दुकान चलाने के लिए लोगों को घर से पूजी लगानी पड़ेगी।

देसी शराब और बीयर की मांग में 60 से 66 परसेंट की कमी तथा अन्य ब्रांड की मांग भी घटी है। लॉक डाउन के 41 दिनों के बाद 4 मई को जब प्रदेश में शराब की दुकानें खोली गई तो दुकानों पर भारी भीड़ देखकर लगा कि 48 दिनों की रिकवरी एक ही सप्ताह में पूरी हो जाएगी। किंतु 5 मई से ही शराब की बिक्री में गिरावट नजर आने लगी। दुकानदारों ने विभाग को अपनी परेशानी से अवगत कराया। विभाग ने आबकारी अधिकारियों के साथ बैठक भी की लेकिन नतीजा कुछ नहीं निकला। शराब की ढाई से तीन हजार करोड़ रुपए की बिक्री हर महीने हो जाती है।

Next Story
Share it