कौन हैं नैंसी पेलोसी, जिन्होंने ट्रंप के सामने उनका भाषण फाड़ डाला!

अमेरिका के राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप महाभियोग से बच गए. एक सदन में उन पर महाभियोग लगाया गया था, जिसे सहमति मिली थी. दूसरे सदन में नहीं मिली, तो वे बरी हो गए. ट्रंप और  महाभियोग की जानकारी के लिए आप यहां क्लिक कर के पढ़ सकते हैं.

इसके बाद दिया उन्होंने स्टेट ऑफ यूनियन एड्रेस. राष्ट्रपति इसमें मुख्य भाषण देता है. अपने हर नए साल के पहले. इसमें संसद के दोनों सदन मौजूद होते हैं. इसी भाषण के बाद हाउस ऑफ़ रिप्रेजेन्टेटिव्स की स्पीकर नैंसी पेलोसी ने उनसे हाथ मिलाने के लिए अपना हाथ बढ़ाया. लेकिन ट्रंप ने उन्हें नज़रंदाज़ कर दिया. इसके बाद नैंसी ने ट्रंप के भाषण की प्रति उनके सामने फाड़ दी. ये मोमेंट तब से वायरल हो रहा है.

भाषण फाड़ने पर पेलोसी ने खुद को डिफेंड किया. उन्होंने प्रेस कांफ्रेंस में कहा,

‘मैंने झूठ के मैनिफेस्टो को फाड़ा. ये ज़रूरी था ताकि अमेरिकन लोगों का ध्यान खींचा जा सके और उन्हें बताया जा सके, ये सच नहीं है, औरये आपको इस तरह प्रभावित करता है. मुझे सम्मान के बारे में किसी से कोई सीख नहीं चाहिए, ख़ास तौर पर अमेरिका के राष्ट्रपति से तो बिलकुल नहीं. हम हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव्स को राष्ट्रपति के रिअलिटी शो का बैकड्राप बनने नहीं देना चाहते’.

कौन हैं नैंसी पेलोसी?

READ  कोरोनावायरस से चीन में मरने वालों की संख्या 132 हुई, करीब 6,000 नये मामलों की पुष्टि

डेमोक्रेटिक पार्टी की लीडर हैं. हाउस ऑफ़ रिप्रेजेंटेटिव्स की स्पीकर हैं. अमेरिका के इतिहास में पहली महिला हैं जिन्होंने ये पद संभाला. 26 मार्च, 1940 को जन्मीं. बाल्टीमोर में. ये अमेरिका का शहर है. माता-पिता इटालियन मूल के हैं. पिता भी डेमोक्रेट पार्टी के लीडर थे. बाल्टीमोर के मेयर भी बने. पेलोसी के भाई भी बाल्टीमोर के मेयर बने. बचपन में पेलोसी अपने पिता के साथ कैम्पेनिंग के लिए जाया करती थीं. 1987 में संसद पहुंची थीं, तब से लेकर अभी तक 16 कार्यकाल पूरे कर चुकी हैं. 2019 में 17वां कार्यकाल शुरू हुआ इनका. स्पीकर ऑफ द हाउस के तौर पर पेलोसी दूसरे नम्बर पर हैं प्रेसिडेंट की लाइन में. यानी अगर प्रेसिडेंट पद से हटता है, तो वाइस प्रेसिडेंट उसकी जगह लेंगे. और वाइस प्रेसिडेंट के हटने पर स्पीकर उसकी जगह लेते हैं.

Nancy Pelosi 2
करियर की शुरुआत के दौरान ली गई नैंसी की तस्वीर. वो दूसरी ऐसी लीडर हैं जो एक बार स्पीकर पद पर रहने के बाद दुबारा इस पद पर लौटी हैं. (तस्वीर: विकिमीडिया)

डेमोक्रेट्स को संसद में 2003 से लीड कर रही हैं नैंसी. ऐसा करने वाली भी वो पहली महिला नेता रहीं. 2003 से 2007 और 2011 से 2019 तक वो हाउस में अल्पमत की नेता थीं. उस समय रिपब्लिकन बहुमत में थे.

सितंबर 2019 में पेलोसी ने डॉनल्ड ट्रंप के खिलाफ महाभियोग के आरोप की सुनवाई शुरू की.

क्या है इनकी पॉलिटिक्स? 

अमेरिका ने जब 2003 में ईराक पर हमला किया था, तब नैंसी ने उस युद्ध के खिलाफ विरोध जताया था. कहा था कि वहां से अमेरिका को अपने सैनिक हटा लेने चाहिए. गन कंट्रोल और एबॉर्शन राइट्स के लिए नैंसी ने हमेशा अपना समर्थन दिया है. बराक ओबामा ने राष्ट्रपति पद पर रहते हुए ओबामाकेयर नाम का जो हेल्थ इंश्योरेंस प्लेन लांच किया, उसमें भी नैंसी ने उनकी काफी मदद की.

READ  ब्रिटेन की अदालत ने अनिल अंबानी को 10 करोड़ डॉलर जमा करने का निर्देश दिया

क्या है हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव्स, सीनेट, डेमोक्रेट्स और रिपब्लिकन्स?

अमेरिका की संसद को कांग्रेस कहते हैं. इसके दो सदन हैं. सीनेट और हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव्स. जैसे हमारे यहां राज्यसभा और लोकसभा हैं. सीनेट अपर हाउस है, यानी राज्य सभा. हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव्स लोअर हाउस है यानी लोकसभा. 435 सदस्य हैं इसके. दो साल का कार्यकाल होता है एक रिप्रेजेंटेटिव का. यहां डेमोक्रेट बहुमत में हैं.

Pelosi Mocking Trump
पेलोसी पिछले साल के स्टेट यूनियन एड्रेस के बाद भी वायरल हुई थीं, जब इन्होने ट्रंप के भाषण के बाद उनका मज़ाक उड़ाते हुए ताली बजाई थी. ((तस्वीर: ट्विटर)

सीनेट में 100 सीटें हैं. वाइस प्रेसिडेंट इसका अध्यक्ष होता है. कार्यकाल 6 साल का होता है एक सीनेटर का. यहां रिपब्लिकन बहुमत में हैं.

डेमोक्रेट और रिपब्लिकन दो पार्टियां हैं अमेरिका की. रिपब्लिकन पार्टी को ग्रैंड ओल्ड पार्टी भी कहा जाता है. रिपब्लिकन्स को कंजर्वेटिव माना जाता है. यानी ये फ्री मार्केट के पक्षधर होते हैं. और परंपरावादी होते हैं. डेमोक्रेट्स लिबरल माने जाते हैं. समाज कल्याण में स्टेट की भागीदारी के पक्षधर. बदलावों को अपनाने वाले.

News Reporter
A team of independent journalists, "Basti Khabar is one of the Hindi news platforms of India which is not controlled by any individual / political/official. All the reports and news shown on the website are independent journalists' own reports and prosecutions. All the reporters of this news platform are independent of And fair journalism makes us even better. "

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: