20.1 C
Uttar Pradesh
Tuesday, November 29, 2022

शीतकालीन योगाभ्यास से बढ़ेगी ऊर्जा घटेंगे रोग

भारत

डॉ. एसके सिंह
डॉ. एसके सिंह
Dr. SK Singh is a senior journalist, he has also worked for Dainik Jagran and Amar Ujala's newspapers.

बस्ती।शीतकाल में शरीर स्वस्थ और ऊर्जावान रखने के लिए योगाभ्यास का बहुत महत्व है इसी को ध्यान में रखते हुए जिले में निःशुल्क योग विज्ञान शिविरों का आयोजन किया गया है। पतंजलि व भारत स्वाभिमान समिति बस्ती के योग प्रशिक्षक अपने अपने क्षेत्र में निःशुल्क योग शिविरों का संचालन करेंगे। यह जानकारी देते हुए ओम प्रकाश आर्य जिला प्रभारी भारत स्वाभिमान समिति बस्ती ने योग शिक्षकों को एक बैठक कर आवश्यक निर्देश दिये।

इसी क्रम में मकबूलगंज बस्ती में चल रहे योग शिविर के द्वितीय दिवस के अवसर पर वरिष्ठ योग शिक्षक प्रशिक्षक डॉ प्रवेश कुमार ने साधकों को बताया कि प्राण शरीर की रक्षा करता है और प्राणायाम प्राण को सबल बनाये रखने का काम करते हैं। लम्बा गहरा सांस हमारे फेफड़ों को सबल बनाता है। शरीर में श्वांस को ग्रहण करने की जितनी ज्यादा क्षमता होती है रोग प्रतिरोधक क्षमता उतनी ही अधिक होती है। व्यायाम कराते हुए योग प्रशिक्षक गरुण ध्वज पाण्डेय ने साधकों को सूक्ष्म व्यायाम, यौगिक जॉगिंग, ताड़ासन, नौकासन, भुजंगासन, मर्कटासन, उत्तानपादासन,  द्विचक्रिकासन, शलभासन, का अभ्यास कराते हुए उसके लाभ बताये।
सह योग शिक्षक शिव श्याम ने साधकों को योग की बारीकियों को बताते हुए घरेलू उपाय बताये। शिविर में स्वास्थ्य लाभ लेने आये साधकों का स्वास्थ्य परीक्षण करते हुए वैद्य अजय चौधरी ने आहार विहार व आस पास की औषधीय पौधों से दवा तैयार करने के तरीक़े व उपयोग समझाए। यज्ञ प्रभारी आचार्य देवव्रत ने बताया कि शिविर के समापन के अवसर पर रोगनाशक हवन सामग्री से यज्ञ कर रोगानुसार हवन सामग्री तैयार करने के गुर भी सिखाये जाएंगे। अंत में व्यवस्थापक बलराम चौधरी ने कहा कि ऐसे शिविरों से ग्राम स्तर पर भी योग से लोग लाभान्वित होंगे। शिविर में मुख्य रूप से धर्मेंद्र कुमार   मालती देवी  सुदामा देवी  बच्चू लाल, सुखी जगनारायण गायत्री देवी भगवती प्रसाद शंखरा जी  फुल कुमारी मोहनलाल  मनीषा मनीराम श्यामलाल राधिका देवी भगवान दास  कुशलावती देवी रामसूरत चौधरी यशवंत चौधरी शिवम चौधरी शुभम चौधरी नरेंद्र चौधरी अशोक कुमार राम अजोर चौधरी आदि लोग उपस्थित रहे।

Advertisement
- Advertisement -

सबसे अधिक पढ़ी गई

- Advertisement -

ताजा खबरें