33 C
Uttar Pradesh
Monday, September 20, 2021

UP Covid-19 UPDATE: ट्रेस, टेस्ट एण्ड ट्रीट की नीति से प्रदेश में कोविड संक्रमण के मामलों में तेजी से कमी आयी

भारत

e14612343fcbf6d3201345a840e96510?s=120&d=mm&r=g
डॉ. एसके सिंह
Dr. SK Singh is a senior journalist, he has also worked for Dainik Jagran and Amar Ujala's newspapers.
Covid-19

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राज्य सरकार की ‘ट्रेस, टेस्ट एण्ड ट्रीट’ की नीति से प्रदेश में कोविड संक्रमण के मामलों में आशानुकूल तेजी से कमी आयी है। उन्होंने कोरोना से बचाव और उपचार की व्यवस्थाओं को सुदृढ़ बनाए रखने के निर्देश दिए हैं।

मुख्यमंत्री आज यहां लोक भवन में आहूत एक उच्चस्तरीय बैठक में प्रदेश में कोविड-19 की स्थिति की समीक्षा कर रहे थे। बैठक में मुख्यमंत्री जी को अवगत कराया गया कि विगत 24 घण्टों में राज्य में कोरोना संक्रमण के 36 नए मामले सामने आये हैं। इसी अवधि में 73 संक्रमित व्यक्तियों को सफल उपचार के बाद डिस्चार्ज किया गया है। वर्तमान में प्रदेश में कोरोना संक्रमण के एक्टिव मामलों की संख्या 798 है। पिछले 24 घण्टों में प्रदेश में कुल 2,25,009 कोरोना टेस्ट किये गये। राज्य में अब तक कुल 06 करोड़ 45 लाख 02 हजार 956 कोरोना टेस्ट सम्पन्न हो चुके हैं। प्रदेश में कोरोना संक्रमण की रिकवरी दर 98.6 प्रतिशत है।

मुख्यमंत्री को यह भी अवगत कराया गया कि जनपद अलीगढ़, बदायूं, बस्ती, बहराइच, एटा, फतेहपुर, हमीरपुर, हाथरस, कासगंज, महोबा और श्रावस्ती में कोविड का एक भी मरीज नहीं है। यह सभी जनपद कोरोना संक्रमण से मुक्त हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि लोगों को कोरोना वैक्सीनेशन के प्रति सतत जागरूक किया जाए। उन्होंने कहा कि टीकाकरण का कार्य निर्बाध एवं सुव्यवस्थित ढंग से संचालित किया जाए। कोविड वैक्सीनेशन के लिए ऑनलाइन पंजीकरण की प्रक्रिया को प्रोत्साहित किया जाए। गांवों में कॉमन सर्विस सेन्टर के माध्यम से कोविड टीकाकरण हेतु प्रदान की जा रही निःशुल्क पंजीकरण सुविधा का व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाए। मुख्यमंत्री जी को अवगत कराया गया कि गत दिवस तक प्रदेश में 04 करोड़ 52 लाख 33 हजार 333 वैक्सीन डोज दी जा चुकी हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में ऑक्सीजन संयंत्रों की स्थापना का कार्य पूरी तेजी से संचालित किया जाए। उन्हें अवगत कराया गया कि प्रदेश में 549 ऑक्सीजन संयंत्रों के निर्माण की स्वीकृति प्राप्त हुई है। इनमें से 238 ऑक्सीजन संयंत्र स्थापना के पश्चात क्रियाशील हो गये हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेशवासियों को गुणवत्तापरक स्वास्थ्य सुविधाएं सुलभ कराने के लिए राज्य सरकार प्रतिबद्ध है। यह सुनिश्चित किया जाए कि जरुरतमंद को एम्बुलेंस सेवा समय से प्राप्त हो। यदि ऐसा नहीं होता है, तो सम्बन्धित एम्बुलेंस प्रोवाइडर के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाए।

मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया कि आयुष्मान भारत योजना के तहत लाभार्थियों के कार्ड बनाने का विशेष अभियान प्रारम्भ किया गया है। इसके तहत कल 26 हजार आयुष्मान कार्ड लाभार्थियों को वितरित किये गये। मुख्यमंत्री जी ने कहा कि ऐसे अन्त्योदय कार्ड धारक परिवार जो प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना अथवा मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना में से किसी भी योजना से आच्छादित नहीं को मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना से लाभान्वित की जाने का निर्णय लिया गया है।  इससे 40 लाख अन्त्योदय कार्ड धारक परिवारों को लाभ मिलेगा। उन्होंने सभी पात्र लोगों को इस योजना से लाभान्वित करने के निर्देश दिये।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी ग्राम पंचायतों में ग्राम सचिवालय की स्थापना राज्य सरकार की प्राथमिकता है। इन भवनों के निर्माण से कार्य प्रणाली को एक व्यवस्थित स्वरूप भी मिलेगा। उन्होंने निर्देश दिए कि आगामी 03 माह में प्रदेश की सभी ग्राम पंचायतांे में ग्राम सचिवालय भवन का निर्माण पूर्ण कर लिया जाए।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि राज्य सरकार महिलाओं की सुरक्षा और सशक्तिकरण के लिए पूरी प्रतिबद्धता के साथ कार्य कर रही है। मिशन शक्ति के सकारात्मक परिणाम देखने को मिले हैं। महिला स्वयं सहायता समूह व बी0सी0 सखी के माध्यम से महिलाओं को स्वावलम्बी बनाने में मदद मिली है। मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना और मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना जैसी योजनाओं ने बालिकाओं और उनके अभिभावकों को बड़ा सम्बल दिया है। इसके दृष्टिगत मिशन शक्ति को नवीन ऊर्जा के साथ नई दिशा देने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि मिशन शक्ति के अन्तर्गत स्वास्थ्य, शिक्षा, ग्राम्य विकास, पंचायतीराज, गृह, महिला एवं बाल विकास विभाग परस्पर समन्वय के साथ मिशन शक्ति के आगामी चरण की कार्ययोजना तैयार करें।

Read More: नोएडा में लगातार लग रहे उद्योग, यूपी की इमेज को निखारने का प्रयास

- Advertisement -

सबसे अधिक पढ़ी गई

- Advertisement -

ताजा खबरें