Top

दुनिया में बढ़ रहा मीडिया की आजादी को खतरा, सरकारें कोविड-19 की आड़ में छुपाएंगी नाकामी: पत्रकार संगठन की रिपोर्ट

रिपोर्ट में अमेरिका में प्रेस की स्वतंत्रता को ‘संतोषजनक’ बताया गया है लेकिन ‘सार्वजनिक तौर पर निंदा, खतरे और पत्रकारों को परेशान करना गंभीर समस्या बना हुआ है’.

पेरिस: पत्रकारों की स्वतंत्रता एवं सूचना के अधिकार की रक्षा के लिए काम करने वाले गैर सरकारी संगठन ‘रिपोटर्स विदआउट बॉर्डर्स’ ने आगाह किया है कि कोरोनावायरस महामारी दुनिया भर में प्रेस की आजादी के लिए खतरा पैदा कर रही है.

वैश्विक मीडिया स्वतंत्रता के अपने वार्षिक मूल्यांकन में समूह ने मंगलवार को चेताया कि सरकारें इस स्वास्थ्य संकट को बहाना बना सकती हैं और ‘सामान्य समय में उठाए न जा सकने वाले कदम उठाने के लिए इस बात का लाभ उठा सकती हैं कि राजनीतिक गतिविधियां नहीं हो रही हैं, जनता परेशान है और प्रदर्शनों का तो सवाल ही पैदा नहीं होता.’

प्रेस की स्वतंत्रता के सूचकांक में उत्तर कोरिया सबसे निचले पायदान पर है. नॉर्वे 180 देशों एवं क्षेत्रों की रैंकिंग में 2019 की तरह शीर्ष पर है. भारत इस सूची में 142वें स्थान, पाकिस्तान 145वें स्थान और चीन 177वें स्थान पर है.

रिपोर्ट में अमेरिका में प्रेस की स्वतंत्रता को ‘संतोषजनक’ बताया गया है लेकिन ‘सार्वजनिक तौर पर निंदा, खतरे और पत्रकारों को परेशान करना गंभीर समस्या बना हुआ है’.

अमेरिका इस सूची में 45वें स्थान पर है.

Next Story
Share it