महिला चपरासी ने किया ऐसा काम बदनाम हो गया पूरा इंटर कॉलेज

एनपीएस घोटाले को सार्वजनिक करे सरकार -चेत नारायन सिंह

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ राज्य परिषद की बैठक सम्पन्न लखनऊ। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ के राज्य परिषद...

महिला चपरासी ने किया ऐसा काम बदनाम हो गया पूरा इंटर कॉलेज

मृतक आश्रित महिला चपरासी नें पूरे स्टाफ को बना दिया गजेड़ी। प्रधानाचार्य का आदेश न मानते हुए उनके खिलाफ...

सांगठनिक मजबूती से ही शिक्षक परिलब्धियों की सुरक्षा होगी-चेत नारायण सिंह

पूर्वांचल उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ की समीक्षा बैठक सम्पन्न बस्ती। पूर्वांचल के उत्तर प्रदेशh माध्यमिक शिक्षक संघ की...

स्काउट-गाइड संस्था को बदनाम करने वालों को बेनकाब करें -संजय द्विवेदी

प्रादेशिक चुनाव प्रक्रिया को शून्य घोषित करके पुनः चुनाव कराया जाय स्काउट गाइड की शुल्क वृद्धि आदेश को वापस...

एनपीएस से पूर्व चयनित शिक्षकों को पुरानी पेंशन का लाभ दिया जाय: संजय द्विवेदी

2002 में अध्यापकों की भर्ती विज्ञापित की गई थी 24 दिसम्बर 2004 को परिणाम घोषित किया गया था

मृतक आश्रित महिला चपरासी नें पूरे स्टाफ को बना दिया गजेड़ी।

प्रधानाचार्य का आदेश न मानते हुए उनके खिलाफ थाने में दिया दुष्कर्म की सूचना।

बस्ती। जनपद के लालगंज थाना अंतर्गत जनता इंटर कॉलेज बनकटी में कार्यरत मृतक आश्रित महिला कर्मचारी द्वारा ऐसा खेल रचाया गया कि पूरे स्टाफ का दिसंबर महीने का वेतन जिला विद्यालय निरीक्षक नें बाधित कर दिया है। सूचना के अनुसार महिला अनुचर रेनू देवी पत्नी स्व.सुधीर कुमार निवासी ग्राम तिलौली, पोस्ट बांसी, जनपद सिद्धार्थनगर विगत 10 वर्षों से पति की मृत्यु के बाद जनता इंटर कॉलेज बनकटी में अनुचर पद पर कार्यरत है। सूत्रों के अनुसार महिला चपरासी के रचाए खेल की शुरुआत नवंबर महीने में 23 तारीख से शुरू होती है, जब उसने आरोप लगाया कि कार्यालय में उसके द्वारा साफ-सफाई करने के दौरान उसे पॉलिथीन में रखा हुआ गांजे का पुड़िया प्राप्त हुआ है। जिसकी सूचना उसने तत्कालीन प्रबंध संचालक विकास चंद्र श्रीवास्तव को दिया और उक्त प्रबंध संचालक सूचना के 21 दिनों के बाद मामले की जांच करने विद्यालय में आते हैं तथा जांच के दौरान उन्होंने जो रिपोर्ट उच्चाधिकारियों को सौंपा, उसके अनुसार सुनील कुमार दुबे प्रधान लिपिक, शिव प्रकाश विश्वकर्मा व राम शंकर सहायक लिपिक, रामनिवास, विनीत कुमार, देवमणि पाल अनुचर तथा वासुदेव दफ्तरी को आरोपी मानते हुए उक्त मामले का स्पष्टीकरण देने के लिए 3 दिनों का समय दिया। जिसमें से कुछ लोगों नें अपना स्पष्टीकरण प्रेषित किया और तीन लोगों के स्पष्टीकरण न देने के कारण 27 दिसंबर को जिला विद्यालय निरीक्षक बस्ती जगदीश प्रसाद शुक्ल द्वारा संपूर्ण विद्यालय स्टाफ का वेतन बाधित करने का आदेश जारी कर दिया गया। इसके एक दिन पूर्व दिनांक 26 दिसंबर 2023 को संयुक्त शिक्षा निदेशक बस्ती मंडल डॉ. ओम प्रकाश मिश्रा द्वारा जारी आदेश में विकास चंद्र श्रीवास्तव प्रधानाचार्य पं. दीनदयाल उपाध्याय इंटर कॉलेज गोटवा, रुधौली को प्रबंध संचालक पद से हटाते हुए शिव बहादुर सिंह प्रधानाचार्य राजकीय इंटर कॉलेज बस्ती को जनता इंटर कॉलेज बनकटी का प्रबंध संचालक नियुक्त करने का आदेश जारी कर दिया।

उल्लेखनीय है कि इंटर कॉलेज स्टाफ द्वारा जो तथ्य सामने लाए गए, उसके अनुसार मृतक आश्रित महिला चपरासी रेनू देवी द्वारा काम न करना पड़े, इसके लिए प्रबंध संचालक को कार्यालय में गांजा मिलने की मनगढ़ंत सूचना दिया गया। साजिश के जो असली तथ्य सामने आए उसके अनुसार घटना के 5 दिन पूर्व विद्यालय के प्रधानाचार्य विजय कुमार द्वारा विद्यालय से संबंधित कार्य करने को रेनू देवी से कहा, आदेश की अवहेलना करते हुए रेनू देवी नें प्रिंसिपल द्वारा बताए गए काम करने से सीधे मना कर दिया और मनगढ़ंत आरोप लगाते हुए थाना लालगंज में प्रधानाचार्य के खिलाफ दुष्कर्म एवं छेड़छाड़ की सूचना दे दिया। जिसकी जांच हेतु विद्यालय में लालगंज थाने से दो पुलिसकर्मी गए। पुलिस कर्मियों द्वारा मामले की असलियत जांची गई तो अनुचर रेनू देवी द्वारा लगाए गए सभी आरोप असत्य पाए गए, जिसके लिए विद्यालय की जगहंसाई न हो उसके लिए रेनू देवी द्वारा लिखित रूप से नोटरी बयानहल्फी विद्यालय के प्रधानाचार्य विजय कुमार को दिया गया। इसके बाद रेनू देवी कार्यालय में गांजा मिलने की साजिश रचते हुए 5 दिनों बाद घटना की सूचना प्रबंध संचालक को दे दिया। सूत्रों के अनुसार महिला चपरासी रेनू देवी की पति का भले ही देहांत हो गया है लेकिन वह अपने देवर संतोष कुमार के साथ बनकटी विकासखंड मुख्यालय पर निजी मकान बनवाकर रहती है और सरकारी नौकरी में रहते हुए भी उसने बकायदे नगर पंचायत से प्रधानमंत्री शहरी आवास का लाभ ले लिया है। उक्त घटना से शिक्षक समुदाय में काफी रोष व्याप्त है।

पत्र निरस्त कर शिक्षकों से माफी मांगे डीआईओएस-संजय द्विवेदी

बस्ती। चंदा लगाकर मुँहमांगा रिश्वत ना देने से नाराज जनता इंटर कालेज बनकटी के प्रबंध संचालन ने डीआईओएस को फर्जी रिपोर्ट देकर शिक्षकों को बदनाम किया है। डीआईओएस जाँच कराकर सच सामने लाये अन्यथा परिणाम भुगतने को तैयार रहें। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ डीआईओएस के गैर ज़िम्मेदाराना पत्र निर्गत करने की निंदा करता है। पत्र निरस्त कर शिक्षकों से माफी मांगे डीआईओएस नही तो आंदोलन किया जाएगा।

यूपी की खबरें

एनपीएस घोटाले को सार्वजनिक करे सरकार -चेत नारायन सिंह

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ राज्य परिषद की बैठक सम्पन्न लखनऊ। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ के राज्य परिषद...

महिला चपरासी ने किया ऐसा काम बदनाम हो गया पूरा इंटर कॉलेज

मृतक आश्रित महिला चपरासी नें पूरे स्टाफ को बना दिया गजेड़ी। प्रधानाचार्य का आदेश न मानते हुए उनके खिलाफ...

सांगठनिक मजबूती से ही शिक्षक परिलब्धियों की सुरक्षा होगी-चेत नारायण सिंह

पूर्वांचल उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ की समीक्षा बैठक सम्पन्न बस्ती। पूर्वांचल के उत्तर प्रदेशh माध्यमिक शिक्षक संघ की...

संबंधित खबर

एनपीएस घोटाले को सार्वजनिक करे सरकार -चेत नारायन सिंह

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ राज्य परिषद की बैठक सम्पन्न लखनऊ। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ के राज्य परिषद...

महिला चपरासी ने किया ऐसा काम बदनाम हो गया पूरा इंटर कॉलेज

मृतक आश्रित महिला चपरासी नें पूरे स्टाफ को बना दिया गजेड़ी। प्रधानाचार्य का आदेश न मानते हुए उनके खिलाफ...

सांगठनिक मजबूती से ही शिक्षक परिलब्धियों की सुरक्षा होगी-चेत नारायण सिंह

पूर्वांचल उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ की समीक्षा बैठक सम्पन्न बस्ती। पूर्वांचल के उत्तर प्रदेशh माध्यमिक शिक्षक संघ की...